मृत युवक शंकर यादव के शव को देखते परिजन व ग्रामीण

बक्सर खबर : औद्योगिक थाना के बसौली गांव में शंकर यादव की हत्या करने वाले युवकों की पहचान हो गई है। घटना के वक्त वहां मौजूद युवकों ने पुलिस को उनके नाम बताए हैं। जिनमें दो पांडेय पट्टी के एवं एक युवक बड़की बसौली गांव का है। घटना के वक्त पता चला था। बड़की बसौली के युवकों के साथ हुई झड़प में ऐसा हुआ। लेकिन घायल युवक ने बताया कि वहां एक चार पहिया वाहन में कुछ लोग मौजूद थे। उसके आगे एक बाइक थी। उन लोगों ने हार्न बजा साइड मांगा। सड़क पर दौड़ रहे युवक किनारे नहीं हुए तो वे गुस्से से लाल हो गए। पहले झगड़ा हुआ। जिसके बाद उन लोगों ने सीधे गोली दागनी शुरू कर दी। जिसमें शंकर यादव पिता परशुराम यादव की मौत हो गई। अभिमन्यू यादव पिता रंगनाथ सिंह ग्राम चिलबिला थाना इटाढ़ी घायल हो गया।

add

पांडेयपट्टी के युवकों ने की हत्या
बक्सर : शंकर यादव ग्राम छोटकी बसौली की हत्या किसी और ने नहीं पांडेयपट्टी के रहने वाले मनोज यादव व लक्की यादव ने की है। उनके साथ बड़की बसौली का मनु ओझा भी था। इन सभी ने जरा सी बात का बखेड़ा बना दिया। बात बढ़ी तो गोली चल गई। हत्या के बाद वहां से सभी अपराधी फरार हो गए।

अस्पताल में घायल का उपचार करते चिकित्सक

मामा के यहां रहता है घायल युवक
बक्सर : अपराधियों की गोली से घायल अभिमन्यु कुमार इटाढी थाना के चिलबिला गांव का निवासी है। वहं छोटकी बसौली में मामा जगनरायण सिंह के यहां रहकर फौज में जाने की तैयारी कर रहा था। उसके मामा भी सेना से सेवानिवृत हुए हैं। उन्हीं के मार्गदर्शन में वह तैयारी के लिए वहां गया था। लेकिन उसके साथ ऐसी घटना हो गई।