स्टेशन पर बच्चों के साथ महिला की तस्वीर

बक्सर खबर : शराबी पति से तंग आकर महिला ने बच्चों के संग ट्रेन के सामने छलांग लगा दी। वहां मौजूद आटो चालक व यात्री कल्याण समिति के अध्यक्ष ने महिला को पटरी से खींच लिया। घटना डुमरांव स्टेशन की है। दुखी महिला ने बताया पति की प्रताड़ना से टूट चुकी है। वह अपने साथ मासूम बच्चों की जान भी लेना चाहती है। जिसने भी यह नजारा देखा वह दंग रह गया। उसे बचाने वाले यात्री कल्याण समिति के अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह व आटो चालक मनोज कुमार(नया भोजपुर) रेल पुलिस के पास ले गए। उसने अपना नाम लैला खातुन पति इनु शेख ग्राम नाजिरगंज थाना कोरान बताया।

ट्रेन की गति धीमी होने के कारण बचाई गई जान
बक्सर : यात्री कल्याण समिति के अध्यक्ष ने बताया लैला के साथ उसके तीन बच्चे थे। जब वह पटरी पर लेटी तो ट्रेन की गति धीमी थी। संयोग से वह ट्रेन पटना-मुगलसराय पैसेंजर थी। साथ ही पटरी पर चल रहे काम के कारण चारों को समय रहते पटरी से हटा लिया गया। उसके साथ बेटी ( चार साल), बेटा (तीन) एवं दूसरी बेटा (2) है। पति इनू शेख ईंट भट्ठा पर टैक्टर ड्राइवर है।

add

अब्बू के सामने ही घसीट कर मारा
बक्सर : महिला को वहां मौजुद लोगों ने समझाया। बताओं तुम्हारे क्रोध के कारण आज चार लोगों की मौत हो जाती। पीडित महिला लैला खातुन रोने लगी। उसने बताया शादी छह वर्ष पूर्व हुई थी। कुछ दिन बाद से पति हमेशा शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता है। तंग आकर सूचना मायके जगदीशपुर थाना क्षेत्र के दांव गांव निवासी अपने अब्बू मंजूर खां को दी। वे पूछताछ करने आए तो पति ने अब्बू के सामने भी उसे पीटा। इस दौरान उसकों खोजते हुए उसका पति भी स्टेशन पर पहुंच चुका था। जिसे डांट-फटकार कर तथा भविष्य में ऐसी गलती नहीं करने की नसीहत दी गई। उसके बाद पुरा परिवार वापस गांव गया।