गिरफ्तारी का लोगो

बक्सर खबर। शादी का झांसा दे किशोरी को गगौरा का युवक पिछले दिनों भागलपुर के कहलगांव से अपने गांव भगा लाया। औद्योगिक थाना के गगौरा गांव में वह किशोरी उसी के घर पर रहने लगी। रामविलास उसके साथ पति की तरह रहता था। लेकिन बार-बार कहने पर भी शादी नहीं कर रहा था। पिछले दिनों रामविलास राम व उसके भाई कमलबास राम दोनों की शादी राजपुर इलाके में तय हुई।

तिलक चढऩे आया। छोटा भाई आंगन में बैठा लेकिन बड़ा भाई नहीं बैठा। उसकी जगह लोटा रखकर तिलक की रश्म निभाई जाने लगी। यह सब देखकर उसे शक हुआ। पीडि़ता ने इसकी सूचना पुलिस को दी। उसी दिन यह पुलिस ने तिलक रुकवा दिया। शिकायत के बाद पता चला दोनों भाइयों की शादी जहां हो रही थी। वह लड़कियां भी नाबालिग थी।

add

पुलिस ने पीडि़ता के बयान पर शादी की नियत से भगाने, गर्भपात कराने, शारीरिक शोषण करने जैसी धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर ली। महिला थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दोनों भाई, उनके पिता सुदर्शन राम व उनकी पत्नी बुटनी देवी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इनके खिलाफ आइपीसी की धारा 366, 367, 313, 420, 120 बी, 34 के तहत मामला दर्ज है। कानून के जानकारों ने बताया आरोप साबित हुए तो इस मामले में दस वर्ष की सजा हो सकती है।