पुलिस के हाथ लगी काजल राय और राकेश राय की तस्वीर

बक्सर खबर। शशांक हत्या कांड
अबोध बालक शशांक की हत्या ने यूपी और बिहार में हड़कंप मचा दिया है। उसकी हत्या के बाद जांच में जुटी पुलिस ने यह पाया है कि शशांक के पिता राकेश उर्फ रिंकू राय भी उस हसिन ब्लैकमेलर के गिरफ्त में थे। उस युवती ने उनसे दस लाख रुपये एठ लिए थे। इतना ही नहीं वह तीस लाख रुपये की और मांग कर रही थी। इस वजह से राकेश राय को अपनी राइस मिल भी बेचनी पड़ी।

यह खुलासा तब हुआ जब ब्लैकमेलर युवती काजल के ठिकाने पर बक्सर पुलिस ने छापा मारा। उसके ठिकाने से कई तस्वीरें मिली हैं। जिनके आधार पर वह पुरुषों को फांसती थी। राकेश राय उसके इकलौते शिकार नहीं थे। इससे पहले उसने बनारस, गोरखपुर, लखनउ और बलियां में कई लोगों का अपना निशाना बनाया है। इस बीच बक्सर के सिमरी से आठ जून को शशांक का अपहरण हो गया। दो दिन बाद उसका शव गाजीपुर जिले में मिला।

add

हत्या के बाद उसके पिता राकेश राय ने बताया इसके पीछे चंदन राय, अजय सिंह, अनुप राय और काजल का हाथ है। इन चारों की तलाश में जब बक्सर की स्पेशल टीम ने एक दिन पहले बलियां के भांटी गांव में उसके ठिकाने पर छापा मारा तो कई राज खुले। पुलिस सूत्रों की माने तो अभी तक शशांक के पिता राकेश राय पूरी सच्चाई स्पष्ट नहीं कर रहे हैं। पुलिस काजल की तलाश में लगातार छापामारी कर रही है।

बिहार पुलिस के साथ ही साथ बलियां पुलिस भी उसे गिरफ्तार करने के फिराक में है। क्योंकि उसकी गिरफ्तारी कई राज खोलेगी। इस घटना से जुड़ी कुछ तस्वीरें बक्सर खबर के हाथ लगीं हैं। जिनकी वास्तविकता का दावा हम नहीं करते। क्योंकि यह तस्वीर गलत भी हो सकती है। वैसे पुलिस की माने तो इन तस्वीरों की जांच तकनीकि सेल की टीम कर रही है। इस संबंध में पूछने पर एसपी राकेश कुमार ने कहा हमारी टीम लगातार जांच में जुटी है। सोशल मीडिया के द्वारा कुछ तस्वीरें सामने आने की बात उन्होंने ने भी स्वीकार की।