चांदनी की फाइल फोटो

बक्सर खबर। इक्कीस साल की चांदनी यादव ढ़ाई माह पहले अपने ससुराल आई थी। शुक्रवार की शाम उसके मायके वालों को सूचना मिली। उसकी हालत खराब है। खबर सुनते ही गरीब परिवार का कलेजा मुंह में आ गया। या भगवान कहीं कोई अनहोनी तो नहीं हुई। चांदनी का भाई प्रमोद भागा-भागा कोरानसराय के मठिला गांव पहुंचा। देखा बहन तो अचेत पड़ी है। उसे अस्पताल ले जाने को कहा तो ससुराल वालों ने बताया शायद नहीं बचेगी। भाई जिद पर अड़ गया और ससुराल वालों के विरोध के बावजूद बक्सर ले आया। यहां शिवरात्रि अस्पताल में उसे दाखिल कराया तो पता चला उसकी मौत हो चुकी है।

चांदनी नगर थाना के सारीमपुर गांव निवासी ललन यादव की पुत्री थी। जिसकी शादी वर्ष 2016 एवं गौना 27 अप्रैल 2018 को हुआ था। उसके भाई के बयान पर नगर थाने की पुलिस ने दहेज हत्या की प्राथमिकी दर्ज की। पुलिस के अनुसार भाई ने आरोप लगाया है। चांदनी को खाना में जहर देकर मारा गया है। ससुराल वाले बाइक की मांग कर रहे थे। इस आरोप में चांदनी के पति अजय यादव, ससुर अवधेश यादव, सास किरण देवी व ननद ममता को अभियुक्त बनाया है। पुलिस ने जब मठिला पहुंचकर छानबीन की तो सभी घर वाले फरार मिले।