बक्सर खबर। सातवें चरण के मतदान में एक दिन और शेष बचे हैं। 19 मई को सुबह सात बजे से मतदान होना है। इसकी प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। इस बीच आज शाम से प्रचार का अभियान थम गया है। अब न कोई सभा होगी। न ही किसी द्वारा माइक का प्रयोग किया जाएगा। मतदान शांति पूर्ण संपन्न हो। इसके लिए कई तरह के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। किसी भी व्यक्ति को बूथ में फोन लेकर जाने की अनुमति नहीं होगी। राजनीतिक दलों द्वारा 200 मीटर की दायरे से बाहर ही रहना होगा। जैसा पर्चा वगैरह बांटने का कार्य वे करते हैं। प्रशासन ने यह निर्देश भी दिया है कि 200 मीटर के दायरे से बाहर ही निजी वाहन रहेंगे। किसी को बूथ तक जाने की अनुमति नहीं होगी। हालाकि यह रोक चुनाव कार्य में लगे कर्मियों पर लागू नहीं होगी।

प्रशासन वैसे लोगों पर भी नजर रखेगा। जो दूसरे विधानसभा क्षेत्र के होंगे। अगर उनके पास पर्याप्त कारण नहीं होगा तो उनको चिह्नि किया जा सकता है। जिला दंडाधिकारी सह जिला निर्वाचन अधिकारी ने अपनी शक्तियों को प्रयोग करते हुए पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी है। जो मतदान समाप्ति तक जारी रहेगी। अगर किसी व्यक्ति को सुरक्षा के लिए गार्ड उपलब्ध कराए गए हैं। वे भी मतदान के दौरान बूथ में नहीं जाएंगे। इस तरह के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। साथ ही मतदान शुरू होने से 72 घंटे पूर्व ही सघन जांच के आदेश दिए गए हैं। अगर इस दौरान कोई जिले की सीमा में प्रवेश करता है तो जांच से गुजरना होगा। यह जिलाधिकारी के हवाले से जन संपर्क विभाग ने उपलब्ध कराई है। डीएम ने कहा सभी बूथों पर पेयजल, शौचालय एवं रैंप की व्यवस्था उपलब्ध है। मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देश के अनुरुप पहचान के अन्य विकल्पों का प्रयोग कर सकते हैं।