बक्सर खबर। घर के सामने दरवाजे पर गहरी निंद में सो रहे अधेड़ पर लोगों ने हमला बोल दिया। हलांकि अधेड़ व्यक्ति को गोली लगी नहीं। उनके पैरों को छूती हुई निकल गई। घटना मंगलवार आधी रात के बाद डुमरांव थाना क्षेत्र के नंदन गांव में हुई। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष शिवनरायण राम घटना स्थल पर पहुंचे। मामले की जांच के उपरांत डुमरांव अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचे। जहां पीड़ित का बयान लिया गया। घायल ने सरपंच समेत दो लोगों को नामजद आरोपी बनाया। परिवारिक सूत्रों के अनुसार सुरेश सिंह (53) पिता रामबिहारी यादव रात खाना खाकर अपने घर के सामने दरवाजे पर खाट लगा सोए थे। रात के लगभग एक बजे गोलीबारी की अवाज आई।

तभी सुरेश की निंद खुल गई। देखा कि सरपंच रविद्र सिंह व गोपाल तिवारी गोली चलाकर भाग रहे है। हालांकि छर्रा सुरेश पैर को छूते हुए निकल गया और वह बच गए। डुमरांव अनुमंडलीय अस्पताल से उपचार के बाद उन्हें घर भेज दिया गया। ग्रामीण सूत्रों कि मानें तो गांव में मंदिर को लेकर दोनों पक्षों के बीच लम्बे से विवाद चला आ रहा है। सरपंच रविद्र सिंह ने बताया दो पक्षों के बीच विवाद चल रहा है। उनके ऊपर मनगढ़ंत और निराधार आरोप लगाए गये हैं। डुमरांव एसडीपीओ केके सिंह ने कहा कि सरपंच सहित दो लोगों को नामजद किया गया है। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है।

Comment