बक्सर खबर। चौसा-रामगढ़ मार्ग पर सोमवार की रात सड़क दुर्घटना में गुप्तेश्वर राय उर्फ तुत्तु राय की मौत हो गई। दुर्घटना चौबे की छावनी (सिकरौल के समीप) के पास हुई। वहां सड़क किनारे पड़े मृत व्यक्ति को देख एक युवक ने साहस किया। मौके पर पड़े टूटे फोन से सिम कार्ड निकाला। फिर उसमें जीतने भी नंबर सेव थे। उन पर बारी-बारी से फोन करना शुरू किया। जब जाकर पता चला कि मृतक का नाम गुप्तेश्वर राय पुत्र दत्त नारायण राय है।

वे कैमुर जिला के ग्राम बढ़ा थाना नुआंव के निवासी थे। परिजनों वहां पहुंचे और आस-अपास के कुछ और लोग भी। दुर्घटना लगभग रात साढ़े आज बजे हुई। परिजन जब पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल आए तो यहां डाक्टर नहीं मिले। बताया गया डीएम और एसपी के यहां से पर्ची कटती है। युवकों ने एसपी को फोन किया। वहां से आधे घंटे में पर्चा मिल गया। लेकिन जिलाधिकारी आवास पर उन्हें घंटो बैठना पड़ा। नाराज परिजनों ने शव के साथ वहां प्रदर्शन शुरू किया।

add

तब तक रात के दो बजे चुके थे। सूचना मिलते ही माडल थाना की टीम पहुंची। उन्हें वहां से हटाया गया। तब तक रात के तीन बज चुके थे। इस बीच दूसरे डाक्टर पोस्टमार्टम के लिए पहुंचे। तब जाकर विवाद समाप्त हुआ। वहीं सूत्रों ने बताया कि यह व्यक्ति नारायणपुर गांव गए थे। श्राद्ध कर्म के निमंत्रण में शामिल हो अपने गांव बढ़ा लौट रहे थे। अकेले ही स्प्लेंडर बाइक से गांव जा रहे थे। इसी दौरान यह दुर्घटना हो गई। लेकिन किस वाहन ने उसे टक्कर मारी। इसका पता नहीं चल पाया है।