पीसी करते डीएसपी शैशव यादव

बक्सर खबर : पिकअप चालक को लूटने वाले अपराधी सोमवार को जेल भेज दिए गए। पुलिस ने आज ही मीडिया को बुलाकर गिरफ्तारी की जानकारी दी। जबकि बक्सर खबर ने रविवार को ही गिरफ्तारी की सूचना पाठकों को दे दी थी। लूट का मुख्य सूत्रधार पिकअप का खलासी चंदन राजभर है। उसने ही फोन कर अपने एक साथी मिथलेश चौहान को साजिश में शामिल किया था। गिरिडीह से वह चालक संग रुपये लेकर निकला था।

चंदन की सूचना पर मिथिलेश चौहान ने अपने एक साथी को इसमें शामिल किया जो कि अभी फरार है। डिस्कवर बाइक से दोनों घटनास्थल पर पहुंचे और लूट को अंजाम देकर फरार हो गए। घटना की जांच में जुटी पुलिस रविवार को ही चंदन और मिथिलेश को बभनी गांव से गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस को इनके तीसरे साथी की तलाश है। डीएसपी शैशव ने बताया लूट में इस्तेमाल की गई बाइक बरामद कर ली गई है। रुपये की बरामदगी नहीं हो सकी है। तीनों अपराधी राजपुर थाना के बभनी गांव निवासी हैं।

हेरिटेज विज्ञापन

नोट के चक्कर में फंसा बरामदगी का खेल
बक्सर : पुलिस जल्द ही रुपये बरामद कर लेगी। यह दावा डीएसपी ने किया। वहीं ग्रामीण सूत्रों ने बताया पुलिस ने गिरफ्तार लोगों के परिजनों पर दबाव डाल रुपये का इंतजाम कर लिया है। लेकिन वे नोट लूट के नहीं हैं। लिहाजा उन्हें बदलने तक इंतजार किया जा रहा है। क्योंकि प्राथमिकी में पीडि़त ने नोट का ब्योरा भी दिया है। उस ब्योरे के अनुसार नोटों की संख्या का मिलान बाकी है। इस कारण रुपये बरामद होने की बात पुलिस अभी स्वीकार नहीं कर रही है। पुलिस उस असलहा की बरामदगी के लिए भी दबाव बना रही है जिनका इस्तेमाल लूट में किया गया है।