बक्सर खबर। चिलचिलाती धूप में आपका गला सूखता होगा। क्या ऐसा सिर्फ मनुष्य के साथ होता है। शायद नहीं। अगर नहीं तो उनकी चिंता कौन करे। जो आपसे बात नहीं कर सकते। उनकी तरफ ध्यान हमें भी ध्यान देना होगा। आज बुधवार को डुमरांव के न्यायालय परिसर में कुछ कर्मियों ने ऐसी पहल शुरू की। जो आपको भी प्रेरित कर सकती है। अनुमंडल न्यायालय के न्यायकर्मियों ने सिरिस्तेदार धनंजय तिवारी के नेतृत्व में मिट्टी के कई पात्रों में जल एवं अन्न न्यायालय परिसर के शांत जगहों, दरख्तों एवं पर रखे। जिससे पक्षियों को दाना और पानी मिल सके।

इस अवसर पर सिरिस्तेदार मिथिलेश कुमार पांडेय, धनंजय कुमार नीरज, गणेश साहू, कौशलेन्द्र कुमार ओझा, संतोष कुमार, रवि कुमार, ज्योति कुमार, सुनील कुमार, मैनेजर वर्मा, रामशंकर यादव, सुरेश सिंह, मिथिलेश कुमार ,जग जीतन पासवान सहित अधिवक्ता गण भी उपस्थित थे। इस मौके पर पेशकार कौशलेंद्र ओझा ने हर रोज़ अन्न की व्यवस्था करने का वचन दिया। न्यायालय खुलने के साथ हर रोज सुबह पानी भरने का जि़म्मा जग जीतन पासवान ने लिया। कऱीब एक दर्जन मिट्टी के बर्तन की व्यवस्था पक्षियों के पानी के लिए की गई है। बक्सर खबर की टीम ऐसा करने वाले लोगों के प्रति आभार प्रकट करती है।