अवैध संबंध

बक्सर खबर। शादी-शुदा महिला से इश्क करना युवक के लिए जानलेवा साबित हुआ। इस प्यार का राज तब खुला जब अभिषेक की हत्या हो गई। दुर्भाग्य ऐसा की शव भी परिजनों के हाथ नहीं लगा। इस हत्या को दुर्घटना का रूप देने के लिए महिला ने शव को परिजनों की मदद से रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। लेकिन अभिषेक की तलाश में जुटी पुलिस अंतत: गीता तक पहुंच ही गई। उसे हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आज बुधवार को उसे जेल भेजा जा रहा है। इसकी जानकारी डुमरांव डीएसपी के के सिंह ने दी।

कैसे हुई अभिषेक की हत्या
बक्सर खबर। प्रेम प्रसंग का यह मामला ब्रह्मपुर थाना के ढ़ोढऩपुरा गांव का है। चौबीस वर्षीय युवक अभिषेक कुमार सिंह को गांव में रहने वाली गीता देवी से प्यार हो गया। उसका पति निर्मल राम गैर प्रदेश में रहकर नौकरी करता है। घर में अकेल रहने वाली गीता युवक के संपर्क में आ गई। दोनों के बीच नाजायज संबंध स्थापित हो गए। इस बीच उसे पता चला कि अभिषेक की शादी तय हो गई है। उसने भी कहा मुझे अपने साथ रखो नहीं तो जान दे दूंगी। उसे समझाने के लिए गीता के घर गया। उनके बीच कहा-सूनी हुई। गीता कोई बात मानने को तैयार नहीं थी।

add

दोनों के बीच हाथा-पाई हो गयी। कमरे में एक जगह लोहे की राड रखी थी। गीता ने उसी से अभिषेक को मारा। सर पर ऐसी जगह चोट लगी की वह उठ नहीं पाया। उसे मरा समझ घर में ही शव को छिपा दिया। फोन पर इसकी सूचना गीता ने मायके ग्राम कोपवां, थाना कोरानसराय के वैसे लोगों को दी। जो उसके विश्वस्त थे। वे पहुंचे और रात के वक्त ही शव को रघुनाथपुर और धरौली हाल्ट के बीच पटरी पर रख दिया। यह घटना क्रम सात जून की रात का है। अगले दिन 8 जून को रेल पुलिस ने युवक का शव छत-विच्छत हाल में बरामद किया। लेकिन उसे लावारिस जान तय समय सीमा के बाद गंगा में दफा दिया गया।

भाई की शिकायत के बाद खुला मामला
बक्सर खबर। अभिषेक के बड़े भाई चन्द्रकांत सिंह ने इसकी शिकायत ब्रह्मपुर थाने में दर्ज कराई। उनके अनुसार सात जून को वह घर से रघुनाथपुर जाने की बात कह निकला था। लेकिन मुझे शक है इस घटना में गीता और उसके पति निर्मल राम समेत कुछ लोगों ने मिलकर उसका अपहरण किया है। जब पुलिस ने पूछताछ शुरू की तो गीता ने टूट गई। उसने अपना जुर्म कबूल करते हुए पुरी कहानी पुलिस को बताई। तस्दीक के लिए रेल पुलिस से भी संपर्क साधा गया। वहां से मिली फोटो के आधार पर अभिषेक के शव और कपड़ो की पहचान हुई।
इसी माह होनी थी अभिषेक की शादी
बक्सर खबर। इसी माह की अभिषेक कुमार सिंह की शादी होनी थी। 14 जून को तिलक चढऩा था तथा 20 जून को शादी थी। लेकिन यहां किश्मत को कुछ और ही मंजूर था। अभिषेक गांव की शादी-शुदा महिला के प्यार में फंस गया। जाने-अनजाने उसकी हत्या भी हो गई। डीएसपी के के सिंह ने बताया गीता को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसका पति निर्मल यहां नहीं रहता है। घटना के दिन भी वह यहां नहीं था। इस लिए हत्या में उसकी संलिप्तता के सबूत नहीं मिले हैं। गीता के बयान के आधार पर अन्य संलिप्त लोगों की तलाश की जा रही है।