बक्सर खबर। यूपी के मेढ़वा गांव में शव मिलने की सूचना के बाद भोजपुर ओपी के चिलहरी गांव में सनसनी फैल गई। मृतक अमन राय का शव यूपी से देर रात चिलहरी गांव लाया गया। शव के पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। मुखिया बबिता देवी ने आरोप लगाया कि उनके बेटे का अपहरण किया गया। फिर हत्या कर शव को गंगा में फेंका गया था। उन्होंने तेजनारायण राय एंड कंपनी पर आरोप लगाया है। वहीं गांव के युवक मृत्युंजय राय की हत्या के आरोप में बबिता के पति हरेन्द्र राय जेल में थे। डीएम के निर्देश पर रविवार को जेल से शमशान लाया गया। मृतक अमन का पोस्टमार्टम करा दाहसंस्कार किया गया। नया भोजपुर ओपी प्रभारी कुणालचन्द्र सिंह ने कहा कि शव पहुंचने के बाद पोस्टमार्टम करा लिया है। तनाव को देखते हुए पुलिस लगातार गांव में गस्ती कर रही है। वहीं मुखिया द्वारा अभी एफआइआर नही कराया है। जैसे ही उनका वयान आता है पुलिस जल्द ही गिरफ्तार करेगी।

घटना के बाद गांव में है तनाव
मुखिया बबिता देवी के बेटे अमन राय के शव मिलने के बाद गांव मेें एक बार फिर तनाव व्याप्त है। पिछले दो सालों गांव में दो पक्षों का तनाव का नतीजा है कि दोनों पक्ष से एक-एक जवान होनहार बेटा खो दिया है। वहीं घटना के बाद से पुलिस गांव कैंप कर रही है।