बक्सर खबर । बैडमिंटन प्रतियोगिता का गोल्ड जीतकर प्रत्यूष ने जिले का नाम रोशन किया है। ज्ञातव्य हो केंद्रीय विद्यालय संगठन द्वारा 50 वे राष्ट्रीय खेल कूद का आयोजन भूनेश्वर में किया गया था। पटना प्रक्षेत्र से टीम (बैडमिंटनU/14) के रूप में प्रत्यूष (बक्सर), अमृत (मुज्जफरपुर) एवं रौनक (मुज्जफरपुर) का चुनाव किया गया था। इन तीनों की तिकड़ी ने देश के नामी गिरामी अकादमियों से आई तीकड़ियों को धूल चटाते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। बक्सर का यह लाल एक और रिकॉर्ड की ओर बढ़ रहा था। व्यक्तिगत स्पर्धा में राष्ट्रीय स्तर पर चौथे स्थान पर पहुंच चुका था और तिसरे स्थान पर पहुंच ने ही वाला था तभी दुर्भाग्य ,बड़ी अकादमियों की इज्जत बचाने के लिए कूद पड़ा और प्रत्युष के टखने में क्रैंप आ गया। इस बार उसका अभियान वहीं रुक गया।

प्रत्युष चुरामनपुर गाँव का डा.एस.एन.सिंह का सबसे छोटा पुत्र है। वह केंद्रीय विद्यालय बक्सर का वर्ग आठ का छात्र है। केंद्रीय विद्यालय बक्सर के गेम टीचर ए.के.पांडेय ने उसकी खेल प्रतिभा को भांपते हुए बैडमिंटन पकड़ाई और विशेष ट्रेनिंग के लिए आकाश एकेडमी बक्सर में भेज दिया।वहाँ आकाश ने अपने अंदर समाहित एक-एक गुणों को इसके अंदर समाहित करने का प्रयास करते गए और प्रत्युष भी उनके एक एक गुणों एवं कलाओं को बाखूबी आत्मसात करता गया।तभी तो देश के नामी गिरामी अकादमियों से आए खिलाड़ियों को धूल चटा दिया।