बक्सर खबर । भारत के महान योद्धा व 1857 की क्रांति के महानायक बाबू वीर कुंवर सिंह को श्रद्धा सुमन अर्पित करने जिले भर से लोग सोमवार को बक्सर पहुंचे। कुंवर सिंह चौक पर स्थापित उनकी प्रतिमा को फूलों से सजाया गया। आज ही के दिन 23 अप्रैल 1858 को बाबू कुंवर सिंह ने अग्रेजों के साथ हुए युद्ध में जीत दर्ज की थी। लेकिन एक हाथ कट जाने के कारण वीर गति को प्राप्त हुए। उस महानायक को याद करने के लिए वीर कुंवर सिंह चौक पर तारकेश्वर सिंह, डुमरांव राज परिवार के युवराज चन्द्र विजय सिंह, सदर विधायक संजय उर्फ मुन्ना तिवारी, बक्सर राज परिवार के कुंवर विजय सिंह जैसे जिले के धाकड़ लोगों ने प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें याद किया।

प्रतिमा पर माल्यार्पण की तैयारी में सदर विधायक व अन्य

कार्यक्रम के दौरान अनिल उपाध्याय, उमाशंकर पांडेय आदि शामिल हुए। सदर विधायक ने सभी अतिथियों को अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया गया। यह सिलसिला पूरे दिन चलता रहा। भाजपा नेता रामकुमार सिंह, परशुराम चतुर्वेदी आदि देर शाम तक कुंवर सिंह चौक पर जमे रहे। विजय दिवस के मौके पर कुंवर सिंह चौक को दीपों से रौशन किया गया।

कांग्रेस कार्यलय में श्रद्धा सुमन अर्पित करते कांग्रेस अध्यक्ष व अन्य

कांग्रेस कार्यालय में भी मनाया गया विजय दिवस
बक्सर : बाबू कुंवर सिंह को याद करते हुए जिला कांग्रेस कार्यालय में भी कार्यक्रम आयोजित हुआ। जहां जिलाध्यक्ष तथागत हर्षवद्र्धन ने कहा बाबू कुंवर सिंह शौर्य, साहस एवं अमरत्व के प्रतीक हैं। अस्सी वर्ष की उम्र में अपने बाहुबल और युद्ध नीति के बल पर उन्होंने अंग्रेजों की हुकूमत को हिला दिया। कार्यक्रम का संचालन बजरंगी मिश्रा ने किया। मौके पर राहुल आनंद, विनय सिंह, राम सबद सिंह, जवाहर लाल दुबे, संजय पांडेय, कैलाश चौधरी, बिरेंदर राम, महिला उपाध्याय, आशीष तिवारी, शिवशंकर चौबे, मोहम्मद अंसारी, मनोज उपाध्याय, पप्पू दुबे, श्रीमन राय, दिनेश द्विवेदी, विवेक पाठक, गुप्तेश्वर चौबे समेत कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

add