-एमवी कालेज में अनशन पर बैठे छात्र नेता

बक्सर खबर। एमवी कालेज में बदहाल छात्र सुविधाओं के खिलाफ गुरूवार से छात्र संघ ने अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल शुरू की है। छात्र संघ अध्यक्ष रवि यादव व उनके साथ छात्र राजद के युवा इसमें शामिल हैं। सुबह से प्रारंभ हुए अनशन के बाद इन छात्रों की तबीयत रात होते-होते खराब होने लगी। दस बजे के बाद सूचना मिली अनशनरत छात्रों में कई का स्वास्थ्य खराब हो गया है। उमस भरी गर्मी के बीच उनके स्वास्थ्य पर इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है। सूचना मिलते ही प्रशासन सक्रिय हुआ। प्रशासनिक आदेश के बाद रात बारह बजे सदर अस्पताल से वहां एंबुलेंस भेजी गयी। लेकिन कोई भी छात्र वहां से अस्पताल जाने को तैयार नहीं हुआ।

उनका सीधा कहना था एक डाक्टर यहां नहीं आया। न ही एंबुलेंस में डाक्टर है। बगैर स्वास्थ्य जांच किए किस आधार पर हमें अस्पताल ले जाया जा रहा है। यहां का प्रशासन हमारे साथ भेदभाव कर रहा है। उन लोगों ने एंबुलेंस को वहां से वापस लौटा दिया। ऐसी संभावना जतायी जा रही है इस भूखहड़ताल को लेकर आज कालेज में जमकर राजनीति होगी। अनशन करने वालों में कालेज के संघ अध्यक्ष रवि यादव, सचिव विक्की यादव, कोषाध्यक्ष पियुष यादव, रोहित कुमार, छात्र राजद के विवेक केशरी व एनएसयूआई के मुरारी मिश्रा इसमें शामिल हैं। 
क्या है छात्र संघ की मांगे
बक्सर खबर। छात्र संघ अध्यक्ष रवि यादव और अन्य छात्रों ने कालेज प्रबंधन के समक्ष चार मुख्य मांगे रखी हैं। जैसे पेयजल के लिए आरो वाटर, कालेज की शिक्षक व्यवस्था में सुधार, कालेज के व्याख्याताओं की कक्षा में उपस्थिति और जिला मुख्यालय में उनका रहना सुनिश्चित किया जाए। इस तरह की मांगों के साथ कालेज अध्यक्ष अनशन पर हैं। कालेज प्रशासन ने उनसे दो माह का समय मांगा था। लेकिन समय पूरा होने के बाद भी कालेज प्रशासन ने उनकी किसी मांग पर विचार नहीं किया। जिसके विरुद्ध यह अनशन प्रारंभ हुआ है।