बक्सर खबर। मुफस्सिल थाना के बनारपुर गांव में शनिवार की रात विवाहित महिला की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। इसकी सूचना किसी ने लड़की के मायके वालों को दी। वे आज रविवार को पहुंचे। इस बीच गांव वाले आपस में ऐसी बात कर रहे थे। कलह से तंग आकर उसने आत्महत्या कर ली है। लेकिन, उसके साथ क्या हुआ। यह बताने वाला कोई मौके पर नहीं था। आज यहां पहुंचे उसके पिता ने अपने दामाद समेत छह लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। उनकी शिकायत के बाद पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा। पुलिस के अनुसार सभी आरोपी फरार हैं। वह अपने पीछे डेढ़ वर्ष के बेटे को छोड़ गई है।

तीन वर्ष पहले हुई थी शादी
बक्सर खबर। सूत्रों ने बताया कि बनारपुर निवासी नंदराज राय के छोटे पुत्र संतोष राय की शादी 2016 में भोजपुर जिला उदवन्त नगर थाना के बेलाउर गांव निवासी विजय राय की पुत्री आशा राय से हुई थी। पिता विजय राय ने पुलिस ने बताया की संतोष राय दहेज़ की मांग को लेकर अपनी पत्नी को हमेशा प्रताड़ित करता था। पिछले कई दिनों से इसी बात को लेकर पति-पत्नी के बीच मनमुटाव था। आशा ने ये सभी बातें अपने घर वालों को बताई थी। उसने बताया था कि, ससुराल वालों के द्वारा दहेज की मांग को लेकर मारपीट की जाती रही है। इस मामले में विजय राय ने पति संतोष राय, सास, ससुर, देवर कुल छः लोगो पर प्राथमिकी दर्ज करायी है। थाना प्रभारी बैजनाथ चौधरी ने बताया की फिलहाल शव को कब्जे में लेकर अंत: परीक्षण को अनुमण्डल अस्पताल भेज दिया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर मामले की सच्चाई सामने आ जायेगी हत्या है या आत्महत्या?