मीडिया को जानकारी देते एसपी व टेबल पर रखे बरामद असलहे।

बक्सर खबर । बुधनपुरवा में जमीन कब्जा करने से जुड़े मामले में एक और वीडियो सामने आया है। जिससे यह पता चलता है प्रियव्रत दुबे वारदात के समय मौके पर उपस्थित नहीं थे। पाठकों को यह ज्ञात होगा 21 अप्रैल की सुबह बुधनपुरवा में जमीन कब्जा करने के आरोप में चार लोगों को जेल भेजा गया था। पांच असलहे भी जब्त हुए थे। तब यह बताया गया इस खेल में बबली दुबे का हाथ है। लेकिन बबली पकड़ में नहीं आया तो पुलिस ने उनके पिता को भी इस मुकदमें में नामजद कर जेल भेज दिया। नगर थाने में पीसी के दौरान एसपी ने बताया जमीन मालिक नथुनी यादव ने पुलिस को फोन किया। कुछ लोग जेसीबी मशीन लेकर आए हैं। मेरा मकान तोड़ रहे हैं। पुलिस ने छापामारी की और मौके से जेसीबी चालक समेत चार लोगों को पकड़ा गया। जिसमें प्रियव्रत दुबे शामिल हैं।

लेकिन इस घटना के बाद कई वीडियो सामने आए। जिसमें बबली ने आरोप लगाया पुलिस ने पिता को घर से बुलाकर जेल भेज दिया। इधर हमारे हाथ भी एक वीडियो लगा है। जिसमें दिख रहा है दिन के उजाले में आगे-आगे बुलेट बाइक पर प्रियव्रत दुबे एवं पीछे दो बाइक से तीन पुलिस वाले जा रहे हैं। जो यह साबित करता है। दुबे को थाना बुला मुकदमें में जेल भेज दिया गया। हालाकि इस घटना में कौन शामिल है और कौन नहीं यह पुलिस अपनी जांच में बताएगी। लेकिन यह भी सच है कार्रवाई के नाम पर पुलिस ने जो कहानी बनाई है। उसकी चुक सामने आने लगी है।

add