Tuesday, December 12, 2017

संसार में मां से बड़ा कोई गुरु नहीं : राजेन्द्र दास जी

बक्सर खबर : भगवान से नेह लग जाए। यह तभी संभव है जब उसके जीवन में भक्ति का प्रवेश हो। यह बार-बार के प्रयास...

दुख के बाद ही आता सुख, घरबराए नहीं : जीयर स्वामी जी

बक्सर खबर : मनुष्य के जीवन में बहुत सी विषम परिस्थितियां आती हैं। इससे भयभीत और परेशान होने की जरुरत नहीं है। मनुष्य को...

तपस्या से जीवन सवरता है, भोग से नहीं : जीयर स्वामी

बक्सर खबर : भारतीय संस्कृति व धर्म यह शिक्षा देते हैं। तपस्या से ही जीवन सवरता है। आदि काल से संत, महात्मा तपस्या करते...

जीवन जीने के हैं सात सूत्र : जीयर स्वामी जी

बक्सर खबर : यह जीवन मनुष्य को मिला है। लेकिन इसे कैसे जिना चाहिए। यह बहुत से लोगों को पता नहीं। उसी तरह अधिकांश...

आए हैं तो जाना है फिर क्या अभिमान दिखाना है: जीयर स्वामी जी

बक्सर खबर : कितना मिथ्या सोचता है मनुष्य। उसे पता है आए हैं तो जाना है। फिर भी इस संसार को अपना मानकर बैठा...

शक्ति के संचार में आसन की है अहम भूमिका – जीयर स्वामी  जी

बक्सर खबर : वगैर आसन के पूजा करना शास्त्र में वर्जित है। ध्यान पूजा करने वाले व्यक्ति को हमेशा उचित आसन का प्रयोग करना...

मानव कल्याण का सहज उपाय प्रभु का स्मरण – जीयर स्वामी

बक्सर खबर : श्री शुकदेवजी महाराज ने राजा परीक्षित को मानव कल्याण के लिए सबसे सहज और सरल उपाय परमात्मा के श्रीचरणों में चिन्तन...

मोह बंधन का कारण है आसक्ति – जीयर स्वामी

बक्सर खबर : शास्त्र में कहा गया है कि प्रभु का भक्त अनेक कष्ट आने पर भी अन्त समय में प्रभु को ही याद...

धर्म के उपर अधर्म का वर्चस्व, कलि की देन – जीयर स्वामी

बक्सर खबर : धर्म के द्वारा सत्य, तप, दया और दान इन चारों का आचरण होता है। यही धर्म के चार परिवार हैं। अधर्म...

चार तत्व पर टीका है धर्म – जीयर स्वामी

बक्सर खबर :धर्म चार स्तम्भों पर टिका है। शास्त्र बतातें हैं इसका पहला स्तंभ सत्य, दूसरा तप, तीसरा दया और चौथा दान है। आज...

चर्चा में

अपराध