मां लक्ष्मी, सरस्वती व गेणश जी

बक्सर खबर : दिवाली के त्योहार की सभी पाठकों को शुभकामना। रविवार अर्थात 30 अक्टूबर को मनायी जा रही दिवाली इस वर्ष सबके लिए लाभ कारी है। लक्ष्मी पूजना का मुहूर्त शाम में है। पंडितों के निर्णय के अनुसार शाम 5: 45 से लेकर रात 8: 27 तक इसका मुहूर्त है। इसके बीच धर्मानुरागी पूजन कर लें। सबसे अच्छा मुहूर्त शाम 6: 31 से रात्रि 8: 27 तक है। वृष लग्न के कारण यह समय शुभ है। इसके उपरात्न यह लग्न समाप्त हो जाएगी। जिसके बाद किया गया पूजन मध्यम स्तर का लाभदायी होगा। यहां पाठकों को हम बता दें कि लक्ष्मी जी के साथ भगवान गणेश व मां सरस्वती का पूजन भी होना अनिवार्य बताया गया है।

31 को मनेगा अन्न कूट
बक्सर : अन्न कूट उत्सव 31 अक्टूबर को मनाया जाएगा। देश के कई मंदिरों में यह त्योहार बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है।

1 को भैया दूज एवं चित्रगुप्त पूजा
बक्सर : एक नवम्बर को भैया दूज एवं चित्रगुप्त पूजा मनायी जाएगी। शास्त्रीय पूजन मान्यता के अनुसार दोपहर एक बजे भैया दूज मनाने का मुहूर्त है। दोपहर 2: 30 से 4: 30 के बीच चित्रगुप्त पूजा का समय है।

विज्ञापन
विज्ञापन