रामनवमी पर विशेष
बक्सर खबर। आज रामनवमी का उत्सव पूरे देश में मनाया जा रहा है। साथ ही देवी पूजन और घरों में वार्षिक पूजन भी हो रही है। इस प्रसंग पर बोलते हुए पूज्य जीयर स्वामी ने कहा कि मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम का जीवन हमें आदर्श जीवन की सीख देता है। मर्यादा के बगैर मनुष्य का जीवन बेकार है। जिस तरह बगैर जल के नदी का अस्तित्व नहीं। उसी तरह अगर आप धर्म और मर्यादा से अलग जीवन व्यतीत करते हैं तो आपका जीवन व्यर्थ है। इस लिए प्रत्येक व्यक्ति को विषम परिस्थिति में भी धर्म का पालन करना चाहिए। भगवान राम का जीवन हमें यही शिक्षा देता है।

इसके लिए सबसे जरुरी है आप और हम जो ज्ञान प्राप्त करते हैं। उसे जीवन में आत्मसात करें। लोगों को सम्मान दें, उचित आचरण करें। क्योंकि उसका प्रभाव पूरे समाज पर पड़ता है। अगर आप उपदेश व ज्ञान की प्राप्ति कर मर्यादित आचरण करते हैं तो आपके परिजन, बच्चे व आस-पड़ोस के लोग भी उससे प्रभावित होते हैं। आपके साथ भी वे वैसा ही बर्ताव करते हैं। पूज्य जीयर स्वामी जी एक दिन पहले ही आरा जिला के बड़हरा प्रखंड अंतर्गत पैगा गांव पहुंचे हैं। आज शनिवार को वहां दिन में 10 से दोपहर 12 बजे तक रामनवमी उत्सव मनाया जा रहा है। अगले पांच दिनों तक स्वामी जी पैगा गांव में ही भागवत कथा का प्रवचन करेंगे।