बक्सर खबर। इस बार के चुनाव में मतदाता किसी विआइपी से कम नहीं होंगे। प्रशासन उनकी सुविधा के लिए अपने स्तर से हर इंतजाम करेगा। बूथ पर जो जाएंगे। उनका स्वागत वेलकम के साथ होगा। इसके लिए जिले में अनेक मॉडल बूथ बने हैं। इसके अलावा वैसे मतदाता जो दिव्यांग हैं। उनकी सुविधा का विशेष ख्याल रखा जाएगा। अगर एक बूथ पर 10- से अधिक दिव्यांग हैं तो उनके लिए वाहन भी उपलब्ध कराया जाएगा। इस पर निर्वाचन आयोग गंभीरता से विचार कर रहा है।

इन तैयारियों का जायजा लेने के लिए आज पटना प्रमंडल के आयुक्त आर एल चौंग्थू बक्सर पहुंचे। सड़क मार्ग से यहां आने के दौरान उन्होंने रास्ते में पडऩे वाले कई बूथों तक जाकर निरीक्षण किया। कुछ जगह मतदाताओं को विशेष रुप से आमंत्रित किया गया था। उन सभी से उन्होंने बात भी की। अपराह्न तीन बजे के लगभग समाहरणालय पहुंचे। यहां अधिकारियों के साथ विमर्श किया और मीडिया से बात की। जिला निर्वाचन अधिकारी राघवेन्द्र सिंह उनके साथ रहे। उनके द्वारा बताया गया कि लोकसभा क्षेत्र में कुल 1850 बूथ बने हैं। जो 1259 भवनों में अवस्थित हैं। लोकसभा क्षेत्र में कुल पुरुष मतदाताओं की संख्या 9 लाख 56 हजार 937 एवं महिला मतदाताओं की संख्या 8 लाख 55 हजार 28 है। इनमें से 9577 सर्विस मतदाता और 14407 पी डब्लू डी मतदाता हैं। 27 अतिरिक्त (थर्ड जेंडर) मतदाता हैं। जिले में लाइसेंसी शस्त्रों की कुल संख्या 3453 है। जिनमें से 3289 का सत्यापन हो चुका है। प्रेस वार्ता के दौरान मीडिया ने यह प्रश्न पूछा कि कई जगह से मतदान के बहिष्कार की बात आ रही है। कमिश्नर ने कहा उनको समझाया जाएगा। लोकतंत्र के महापर्व के प्रति प्रेरित किया जाएगा। लेकिन किसी को मतदान के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता। वह तो उसका विशेष अधिकार है। इस दौरान उनके साथ क्षेत्रिय विकास पदाधिकारी सर्व नारायण मिश्रा, संयुक्त निदेशक धीरेन्द्र नारायण मिश्रा, पुलिस अधीक्षक उपेन्द्र नाथ वर्मा व जिले के अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।
हेल्प लाइन से ले सकते हैं जानकारी
बक्सर खबर। जिला निर्वाचन पदाधिकारी राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि मतदाताओं की सहायता के लिए जिले में हेल्प लाइन चालू किया गया है। यहां सुबह नौ से रात नौ बजे के बीच लोग 1950 पर संपर्क कर जानकारी एकत्र कर सकते हैं। दिव्यांग जनों के लिए विशेष एप निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किया गया है। वैसे लोग जो इस श्रेणी में आते हैं। एप के माध्यम से बूथ तक जाने की सुविधा अथवा अपने लिए ह्वील चेयर की मांग कर सकते हैं।