बक्सर खबर। डुमरांव के बंधनपटवा मुहल्ले में आज गुरुवार की शाम अप्रिय घटना हो गई। तजिया जुलूस के दौरान युवक गम और शहादत का त्योहार मना रहे थे। कुछ लोग तरह-तरह के पारंपरिक हथियार भाज रहे थे। कुछ पुरानी ट्यूब लाइट लेकर उसे भाज और फोड़ रहे थे। इसी क्रम में ट्यूब लाइट फूटी और उसका शीशा मेराजुद्दिन (18) पुत्र शमशुद्दिन के गले में जा धंसा। देखने में जख्म गहरा नहीं था। उसे उपचार के लिए तत्काल अस्पताल ले लाया गया। लेकिन, वहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह दुखद वाकया शाम सात बजे के लगभग हुआ। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। डुमरांव डीएसपी केके सिंह ने बताया कि यह पता चला कि वह स्वयं ही ट्यूब लाइट अपने शरीर पर फोड़ रहा था। एक टुकड़ा गले में जा धंसा। तत्काल वहां मौजूद लोग उसे निजी अस्पताल में उपचार के लिए ले गए। लेकिन, उसे बचाया नहीं जा सका। इसको लेकर वहां मातम पसरा हुआ है। कुछ लोगों ने बताया उसकी उम्र अभी सोलह-सत्रह वर्ष थी। लेकिन, उसकी जीन जानलेवा साबित हुई। प्रशासन ने पहले भी शांति समिति की बैठकों में जानलेवा अस्त्र लेकर प्रदर्शन न करने की अपील सभी से की थी। लेकिन, उसका कोई लाभ नहीं हुआ।