छात्रों को ठग रहा है एजुकेशन माफिया, विरोध में सड़क जाम

0
443

बक्सर खबर। डुमरांव अनुमंडल के प्रतापसागर के पास एक नहीं तीन कालेज चलते हैं। जिनमें बीइएड की पढ़ाई होती है। जिन छात्रों ने यहां दाखिला लिया है। उन्हें कालेज प्रबंधन चूस रहा है। फीस के नाम पर उनसे डेढ़ लाख रुपये वसूले जा रहे हैं। जो जमा करने में असमर्थ हैं उन्हें परीक्षा फार्म नहीं भरने दिया जा रहा। इससे परेशान कालेज के छात्रों ने सोमवार की दोपहर बक्सर-आरा मुख्य पथ को कालेज के सामने जाम कर दिया। तुरंत ही पुलिस पहुंची और बल पूर्वक जाम हटाया। लेकिन, छात्रों की बात उन्होंने सूनी तो पता चला कि यहां क्या गोरख धंधा चल रहा है।

छात्रों ने बक्सर खबर को बताया कि हम सभी ने आर्यभट्ट विश्वविद्यालय की परीक्षा दे यहां दाखिला लिया था। तब 1 लाख 5 हजार रुपये फीस के रुपये में देने को कहा गया। जब प्रथम वर्ष का फार्म भरना था तो 75 हजार रुपये लिए गए। हम सभी ने उस वक्त भी विरोध किया था। तो इन लोगों ने कहा कि अभी आप रुपये जमा करें। अंतिम वर्ष की फीस में यह रुपये घटा कर लिए जाएंगे। छात्र मान गए लेकिन अब कालेज प्रबंधन उनकी बात नहीं सुन रहा। फार्म भरने से पहले 75 हजार की मांग हो रही है। जबकि हमें सिर्फ 30 हजार रुपये ही अदा करने थे।

विवाद की जड़ बना कालेज

छात्रों की बात सुनने के बाद डुमरांव से एसडीओ व अन्य पदाधिकारी वहां पहुंचे। उनको ज्ञात हुआ कि यहां जो तीन कालेज हैं। वह हरियाणा की संस्था है। उसने तीन कालेज खोल रखे हैं। पहले भी मातृछाया कालेज पर विवाद हुआ था। इस बार मर्यादा पुरुषोत्तम कालेज आफ एजुकेशन के छात्रों ने बवाल किया है। पास में एक और कालेज है जिसका नाम महाराणा प्रताप कालेज है। कल को वहां भी विवाद हो सकता है। प्रशासन ने प्राचार्य को बुलाया तो पता चला वे नहीं हैं। प्रशासन ने कालेज प्रबंधन को चेतावनी दी। अगर आप लोगों ने अपना रवैया नहीं बदला तो आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी तय है। क्योंकि इससे छात्रों का भविष्य जुड़ा हुआ है। सूचना के अनुसार 16 फरवरी से बीईएड की परीक्षा होनी है।