आनलाइन करना होगा आवेदन, पहले आओ पहले पाओ की सुविधा
बक्सर खबर। किसानों के लिए अच्छी खबर है। मुख्यमंत्री नवीन एवं नवीनीकरणीय योजना के तहत सोलर पंप लगाए जाएंगे। इसके लिए किसानों को आनलाइन आवेदन करना होगा। सरकार इसमें 75 प्रशित का अनुदान दे रही है। 25 प्रतिशत खर्च किसान को वहन करना होगा। यह योजना बिहार में प्रारंभ हो गई है। पहले चरण में पूरे प्रदेश में कुल 3300 पंप लगाए जाने हैं। जिसके लिए ब्रेडा की साइट पर आवेदन हो रहा है। पिछले सप्ताह ही मुख्यमंत्री ने इसे लांच किया है।

सूचना के अनुसार फिलहाल दो एवं तीन एचपी के पंप लगाए जाएंगे। पांच एचपी के पंप की सुविधा नहीं है। सरकारी अधिसूचना में बताया गया है। किसान breda.bih.nic.in साइट पर आवेदन कर सकते हैं। पहले आओ पहले पाओ के तहत इसके लाभार्थियों का चयन होगा। इसमें भी 22.5 प्रतिशत पंप अनुसूचित जाति, जन जाति व दलित वर्ग के लिए आरक्षित हैं।

breda.bih.nic.in

क्या लेगेंगे कागजात
बक्सर खबर। आवेदन करने वाले किसान को कम से कम एक एकड़ भूमि का एलपीसी, आधार कार्ड, इलेक्शन कार्ड, बैंक खाता नंबर, हस्ताक्षर का स्कैन नमूना व एक फोटो देना होगा। इन सभी कागजात की फोटो पीडीएफ फाइल बनाकर साइट पर अपलोड करनी होगी।
कितना आएगा किसान का खर्च
बक्सर खबर। जो किसान सोलर पंप के लिए आवेदन करेंगे। उन्हें बोरिंग की व्यवस्था स्वयं करनी होगी। दो एचपी के आवेदन कर्ता को चार इंच को बोरिंग एवं तीन एचपी के आवेदक को छह इंच का बोरिंग रखना आवश्यक है। सरकार के अनुसार दो एचपी के पंप की लागत 2 लाख 5 हजार 800 सौ है। इसके लिए 25 प्रतिशत अंशदान की राशि 51450 देनी होगी। तीन एचपी की लागत 2 लाख 69 हजार 850 है। इसके लिए 67 हजार 463 रुपये का अंशदान देना होगा। जो राशि देने में सक्षम नहीं होंगे। उनका आवेदन रद्द समझा जाएगा।