बक्सर खबर : नंदन गांव की घटना से प्रशासन और वहां के नागरिक दोनों परेशान हैं। पथराव के बाद उपजे विवाद में पुलिस ने पूछताछ के लिए तीन महिलाओं समेत कुल 19 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इस बीच शनिवार की रात मीडिया में यह अफवाह आई की। पूर्व मंत्री भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिए गए हैं। कुछ लोगों ने इसकी बेबुनियाद खबर भी प्रसारित कर दी। जिस वजह से पूरी रात लोग यह जानने के लिए परेशान रहे। यह पूर्व मंत्री कौन हैं। किसी ने खुलकर यह जवाब नहीं दिया।

पुलिस अधिकारियों ने पूछने पर कहा यह बात सरासर गलत है। मुख्यमंत्री कार्यालय का स्पष्ट आदेश है। घटना में किसी निर्दोष के उपर कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। इस वजह से अभी तक किसी को जेल नहीं भेजा गया है। किसी पूर्व मंत्री का नाम पर उन लोगों ने अनभिज्ञता जताई। जांच के सिलसिले में पूछने पर डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने कहा वरीय अधिकारी इसकी जांच कर रहे हैं। स्थानीय प्रशासन को इस बारे में कुछ भी पता नहीं है।

हेरिटेज विज्ञापन