बक्सर खबर: मध्य विद्यालय डुभकी के परिसर को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए आखिरकार ग्रामीणों को धरना सहारा लेना ही पड़ा। क्योंकि प्रशासनिक अधिकारी अपने सिनियर की बात सुनते नही तो लोगों के पास धरना अनशन के अलावें कुछ बचता नही। इसी क्रम में प्रखंड के अरियांव पंचायत के डुभकी विद्यालय में रविवार को ग्रामीण विद्यालय में तालाबंदी कर धरना पर बैठ गये है। कार्यक्रम का नेतृत्व युवा नेता दिनेश सिंह कर रहे है। जिसका साथ ग्रामीण बखुबी दे रहे है। ग्रामीण सह आदेवनकर्ता सुभाष लाल सिंह ने कहा कि जिला लोक शिकायत निवारण में 16 जून 2017 को विद्यायल के भूमि अतिक्रमण मुक्त कराने की मैंने मांग की थी। जिसका सुनावाई करते हुए 20 जिला पदाधिकारी सह द्वितीय अपीलीय पदाधिकारी लोक शिकायत निवारण बक्सर ने जूलाई को आदेश जारी करते हुए डुमरांव सीओ श्रीमंत सुमन 10 अगस्त तक अतिक्रमण हटा कर कृत कार्रवाई के साथ अभिलेख व प्रतिवेदन लेकर उपस्थित रहेंगें। परन्तु डुमरांव सीओं ने ऐसा कुछ नही किया। डीएम के आदेश को दरकिनार कर दिया।

जिसके बाद 24 सितम्बर को सीओ सहित तमाम पदाधिकारियों को ग्रामीणों ने पत्र सौंपा कि अगर 30 सितम्बर तक अतिक्रमण नही हटाया जाता है तो ग्रामीण अनशन पर बैठेगे। परन्तु उसके बाद कोई कार्रवाई नही हुई। आज सभी लोग अनशन पर है। इस दौरान पूर्व मुखिया यमुन सिंह, पवन कुमार, दिनेश सिंह, धर्मवीर सिंह, प्रभात कुमार यादव, रंजन कुमार, मुन्ना कुमार, जितेश कुमार, मनजीत कुमार, हरेन्द्र कुमार, आना कुमार, विनोद कुमार समेत दर्जनों दर्जनों ग्रामीण मौजूद थे।

Comment