बक्सर खबर। पुलिस ने शनिवार को जिले में जबरदस्त धरपकड़ अभियान चलाया। एक-एक कर 12 अपराधियों को दबोचा। जिनमें तीन-चार अपराधी पुराने हिस्ट्री शिटर हैं। अन्य आठ अपराधी नवोदित हैं। इन सभी ने मिलकर जिले में विभिन्न बैंकों के ग्राहक सेवा केन्द्र चलाने वाले सात लोगों को लूटा। इन सभी मामलों का खुलासा करने के लिए स्वयं पुलिस कप्तान उपेन्द्र नाथ वर्मा लगातार लगे हुए थे। उनकी सक्रियता के कारण बड़ी संख्या में अपराधी शनिवार को पकड़े गए। इसका खुलासा आज रविवार को सदर डीएसपी सतीश कुमार ने किया।

उन्होंने नगर थाना में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि इन अपराधियों के पास से दो असलहे, मोबाइक फोन, दस हजार नकद आदि बरामद हुआ है। उन्होंने लूट की वारदातों एवं गिरफ्तार अपराधियों के नाम गिनाए। जिसमें रोहन ठाकुर उर्फ दिलजले पुत्र सुशील ठाकुर, आलोक ठाकुर पुत्र सुशील ठाकुर, दोनों मित्रलोक कालोनी, थाना मुफस्सिल, विपुल तिवारी पुत्र प्रकाश तिवारी छोटकी नैनीजोर, सौरभ ओझा पुत्र धीरेन्द्रनाथ ओझा पीसी कालेज, कुंदन कुमार पुत्र रंजन कुमार श्रीवास्तव नया बाजार, जय प्रकाश पुत्र कन्हैया प्रसाद चीनी मिल, ताहीर अंसारी उर्फ पुतुल पुत्र निजामुद्दीन अंसारी, तौकीर उर्फ डीस पुत्र साबीर साह, श्रवण यादव उर्फ सिद्धार्थ पुत्र नागेश्वर यादव तीनों निवासी नया बाजार, सिद्धार्थ कुशवाहा पुत्र रामअवतार सिंह पांडेयपट्टी, रोहित दुबे पुत्र अमर दुबे पांडेयपट्टी, आदित्य पाठक पुत्र कृष्णानंद पाठक चाणक्यपुरी के निवासी हैं। इन सभी के खिलाफ धनसोई थाना कांड संख्या 43/19 लूट 55 हजार, मुफस्सिल थाना कांड संख्या 132/19 लूट 35000, 151/19 लूट 43600, 175/19 लूट 1,50000, औद्योगिक थाना कांड संख्या 94/19 लूट 27500, राजपुर थाना कांड संख्या 119/19 लूट 89000, इटाढ़ी थाना कांड संख्या 148/19 लूट 92625 की घटनाएं शामिल हैं।

Comment