– वेबसाइट लांच, दवाइयों का किया गया वितरण
बक्सर खबर। केंद्रीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने मुंबई में हेपेटाइटिस को समाप्त करने का संयुक्त जन जागरुकता अभियान प्रारंभ किया। क्योंकि जागरुकता किसी भी बीमारी से लडऩे का सबसे सशक्त माध्यम है। रोगों से बचाव तभी संभव है। जब आम जन उसके प्रति सजग हों। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जिस तरह आप सभी ने मिलकर पोलियो को हराया। उसी तरह इस अभियान में भी जुड़े। सरकारी अस्पतालों में इसके टीके लगाए जा रहे हैं। हमारा लक्ष्य है 2025 तक इसे समाप्त किया जाए। स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा आयोजित नेशनल वायरल हेपेटाइटिस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत यह समारोह रविवार को संपन्न हुआ।

महानायक बच्चन ने कहा कि जन भागीदारी के साथ मिलकर इस बीमारी को भी दूर भगाएंगे। जिस तरह से पोलियो को हम सभी ने मिलकर खत्म किया है। कार्यक्रम में इससे संबंधित वेबसाइट को भी लांच किया गया। इस बीमारी से पीडि़त जरुरतमंद के बीच दवाइयां भी वितरित की गई। राज्य मंत्री श्री चौबे ने कहा कि हेपेटाइटिस जानलेवा बीमारी है। केंद्र सरकार इसे लेकर गंभीर है। कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन जी का सहयोग भी मिल रहा है। बुलंद आवाज में बच्चन ने कहा कि मैं खुद हेपेटाइटिस से ग्रसित रहा हूं। 1982 में एक फि़ल्म में दुर्घटना का शिकार हो गया था। इस दौरान मुझे ब्लड की आवश्यकता थी। उस क्रम में हेपेटाइटिस का शिकार हो गया था। हेपेटाइटिस के प्रति जागरुक होना जरूरी है। कार्यक्रम में महाराष्ट्र सरकार के स्वास्थ मंत्री, विश्व स्वास्थ संगठन प्रतिनिधि, केंद्रीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय के सचिव सहित बड़ी संख्या में अधिकारी आदि मौजूद थे।