झूलसा मैकेनिक व जानकारी देने वाले कर्मी की तस्वीर

बक्सर खबर। प्रधानमंत्री अमृत योजना के तहत शहर की हर गली रौशन होनी है। लेकिन, अपने शहर में इस योजना को बिजली विभाग के कारण झटके लग रहे हैं। बात सिर्फ झटके तक सिमित नहीं है। कुछ दिन पहले एक मैकेनिक की जान भी चली गई थी। हालाकि तब मामला दुर्घटना तक सिमति रह गया। आज गुरुवार को फिर उसी घटना की पुनरावृति हुई। वार्ड नंबर तीन में खंभे पर लाइट लगा रहा मैकेनिक बुरी तरह झूलस गया। उसे उपचार के लिए सदर अस्पताल में दाखिल कराया गया है। पूछने पर पता चला उसका नाम मुलचंद कुमार है। वह हापुड का रहने वाला है।

उसने जैसे ही बिजली का कनेक्शन करने के लिए बाक्स खोल तार लगाया। ऐसा स्पार्क हुआ कि उसका चेहरा ही झूलस गया। घटना कब और कैसे हो गई। यह जानने के लिए कंपनी के कर्मचारी बजरंग पांडेय से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया यह दुर्घटना बिजली विभाग की लापरवाही के कारण हुआ है। यहां जो तार बिछाया गया है। उसमें बाक्स का कनेक्शन करना था। लेकिन, जिसने भी कनेक्शन लगया है। उसने दिशा निर्देशों का अनुपालन नहीं किया। इस वजह से यह दूसरी घटना हो गई। हालाकि मैकेनिक खतरे से बाहर है। पर उसका चेहरा झूलस गया है।

add विज्ञापन

Comment