बक्सर खबर। चौगाईं तालाब के पास 10 जून की रात मूनमून ठाकुर का शव मिला था। अगली सुबह लोगों को पता चला। उसके सर से बहुत सारा खून बहा था। तब लोगों को लगा था चोट लगी है। लेकिन जब पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए शव भेजा तो डाक्टरों ने बताया। उसे सर में गोली लगी है। पुलिस जिसे दुर्घटना मार रही थी। वह मामला अब हत्या में परिवर्तित हो चुका है। यह बात मंगलवार को ही सामने आ गई थी।

मूनमून ठाकुर की हत्या रात के वक्त हुई थी। वह मुरार थाना के दंगौली गांव का निवासी था। घटना के दिन उसने अपने बेटे से बताया था। आज रात में घर नहीं आउंगा। मुझे एक जगह शादी समारोह में जाना है। वह चौगाईं बाजार में ही हजाम की दुकान चलाता था। इस मामले में मुरार थाने ने प्राथमिकी दर्ज की है। मूनमून की हत्या क्यो और किसने की होगी? अब यह सवाल पुलिस के लिए गंभीर हो गया है।

Comment