बक्सर खबर: नये वर्ष के आगम पर सोमवार को डी. के. एम. कालेज डुमरी के मैदान में आयोजित गोपाल दास फलहारी क्रिकेट टुर्नामेंट में बिहार ने यूपी को पराजित कर दिया। 16 ओवर के मैच में यूपी के कैप्टन  ने टाॅस जीत कर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया। निर्धारित 14.2 ओवर में दस विकेट पर 87 रन का स्कोर दिया। जिसमें लक्ष्मण कुमार ने 32 गेन्द पर तीन छक्का व तीन चैका के मदद 29, श्याम ने 28 गेन्द पर एकचैका व तीन छक्का के मदद से 24 रन बनाए। वहीं बिहार की तरफ से गेंदबाजी करते हुए मुकेश ने 4 ओवर ने 22 रन देकर छह खिलाडियों को आउट किया। राजू ने 4 ओवर में 18 रन देकर 3 विकेट झटके जबकि सुनील ने 3.2 ओवर 9 रन देकर यूपी को विशाल लक्ष्य बनाने से रोक लिया। जबाब में बल्लेबाजी करने उतरी बिहार की टीम ने तुफानी अंदाज में बल्लेबाजी की चैकों-छक्कों की मानों बरसात हो रही हो। महज दो विकेट खोकर 7.3 गेन्द में 90 रन बनाकर मैंच को आठ विकेट से जीत लिया। बिहार के तरफ से भूषण ने 11 गेंद पर तीन छक्के और दो चैकों की मदद तीस बनाये। जबकि शहीद ने ताबड़तोड बल्लेबाजी करते हुए 28 रन बनाए। यूपी की तरफ से अनिल व लक्ष्मण ने एक-एक विकेट लिया। बिहार की टीम ने पहले गेंदबाजी में दबदबा दिखाते हुए महज आठ रन के स्कोर पर छह बल्लेबाजों को आउट किया। वहीं बल्लेबाजी में जलवा दिखाने के बाद यूपी टीम को हार की तरफ धकेल दिया। इस प्रदर्शन के लिए मुकेश को मैन आफ द टुर्नामेंट व सीरिज के खिताब दिया गया।

इसके पूर्व मैच का उद्घाटन सिमरी प्रखंड प्रमुख प्रियंका पाठक, समाजसेवी मुरली सिंह, अमेरिका में प्रोफेसर पद पर नियुक्त विनोद सिंह, सिमरी जिला परिषद् कमलबास कुवंर, सिमरी पश्चिमी जिला परिषद विजय मिश्रा, चैगाईं के जीप सदस्य अरविंद कुमार उर्फ बंटी शाही, सर्वजीत एचपी गैस डुमरी के वितरक प्रेमसागर कुवंर, भाजपा नेता सत्येन्द्र कुवंर ने संयुक्त रूप से फिता काट कर किया। जबकि विजेता ट्राॅफी डुमरांव विधायक ददन यादव उर्फ ददन पहलवान व प्रोफेसर पद पर नियुक्त विनोद सिंह संयुक्त रूप से दिया। इस मौके पर टुर्नामेंट जबकि मैच में कमेनटेर की भूमिका में काजी उज्जैर आलम, राधेश्याम यादव, रवि कुमार, कमलेश पाण्डेय, पंकज करतार यादव, थे। जबकि मैदानी अम्पायार की भूमिका चंदन सिंह, अमरेश सिंह थे। इस मौके पर आयोजन समिति के बाली कुवंर सुग्रीव कुवंर, राहुल कुमार, सुमंत कुमार, विशाल कुमार, विनायक कुवंर, हेमंत कुमार, निरज कुमार, मुकेश कुमार, झूना साजन, दुर्गेश चैबे, गोलू कुमार, धीरज कुमार बजरंगी दीपू चैबे समेंत सैकड़ों गणमान्य उपस्थित थे।