बक्सर खबर : जिले की पुलिस इन दिनों सक्रिय है। आए दिन कहीं न कहीं शराब की बड़ी खेप पकड़ी जा रही है। बरामदगी कहीं और नहीं सड़क पर हो रही है। कहीं जाइलो, कहीं आल्टो, वैगनार, व सूमो जैसी गाडिय़ां जब्त हो रही हैं। इसकी जानकारी मीडिया को भी मिल रही है। बुधवार को औद्योगिक थाना क्षेत्र में चुरामनपुर के पास कार पकड़ी गई। जिसमें 180 एमएल की 2592 बोतले मिली। सदर डीएसपी शैशव ने इसकी जानकारी मीडिया को दी। उन्होंने यह भी बताया एक दिन पहले मुरार में टाटा सूमो पकड़ी गई। जिसमें 1248 बोतलें बरामद हुई। बावजूद इसके कहीं भी तस्कर नहीं पकड़े गए। एक दिन पहले ज्योति चौक के पास भी नगर थाना की टीम ने वैगनार कार बरामद की थी।

वहां भी तस्कर गिरफ्त में नहीं आए। क्योंकि जिले के शराब तस्कर भी कम रइश नहीं हैं। पुलिस शराब सूंघ पहुंचे उससे पहले वे पूरी की पूरी गाड़ी ही छोड़ चलते बनते हैं। इसकी चर्चा जिले में सर्वत्र है। शराब के तस्कर इतने बड़े रइश हैं गाड़ी की परवाह करते ही नहीं तो चंद रुपये की शराब के लिए वे क्यों फंसे। इस पुलिस को गाड़ी और शराब तो हाथ लग जाती है। तस्कर आराम से निकल लेते हैं। बावजूद इसके पुलिस हर बार यही कहती है। हमारी टीम ने शराब जब्त की है। तो साहब लावारिस हाल में खड़ी गाड़ी से शराब जब्त क्यों नहीं बताते। जब तस्कर का आप पता ही नहीं लगा पाते। यह सवाल कई पाठकों ने हमसे पूछे हैं।

हेरिटेज विज्ञापन