बक्सर खबर : भारत वर्ष में दीप जले तो उसके कई मतलब होते हैं। दीप है तो प्रकाश है, प्रकाश है विकास है। यह संदेश राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने देव-दिवाली के मौके पर दिए। उन्होंने आयोजकों को धन्यवाद दिया जो ऐसे पावन कार्यक्रम में शामिल होने का मौका उन्हें प्राप्त हुआ। केन्द्रीय राज्य स्वास्थ्य मंत्री ने कहा यह देव भूमि है। भारत में गंगा, गायत्री और गौ पूजा होती है। यही हमारी संस्कृति है। पूर्व मंत्री व सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने भी उत्सव के आयोजन के लिए समिति के सदस्यों को बधाई दी। मंच पर आसिन सीताराम विवाह आश्रम के महंत राजाराम शरण जी ने कहा मैं सभी को इस धरती पर स्वागत करता हूं। इस मौके पर पूर्व मुख्य न्यायाधीश उदय प्रताप सिंह भी मौजूद रहे।

 

शानदार तरीके से मना उत्सव
बक्सर : देव दिवाली आयोजन समिति ने इस त्योहार को शानदार तरीके से मनाया। शहर के सभी घाटों पर लाखों की संख्या में दीप जले। श्रद्धालुओं से शहर के सभी घाट सजे दिखे। सभी के हाथों में दीप दिखे। इस दौरान मंच से यादगार स्वरुप स्मारिका का विमोचन किया गया। जिसे अतिथियों ने अपने हाथ से जारी किया। आयोजन समिति ने इस दौरान सभी अतिथियों को स्मृति चिह्न भेट किया।

राज्यपाल को स्मृति चिह्न देते विजय कुमार मिश्र

जिला परिषद सिमरी पश्चिमी के प्रतिनिधि विजय कुमार मिश्र ने इस दौरान चांदी की प्रतिमा राज्यपाल को भेट की। पूर्व एमएलसी हुलास पांडेय ने केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री का स्वागत किया। इसी क्रम में जिला पार्षद बंटी शाही, जदयू नेता संजय सिंह भी सक्रिय भूमिका में दिखे।

गंगा आरती का नजारा

गंगा आरती का हुआ आयोजन
बक्सर : राज्यपाल की मौजूदगी में भव्य गंगा आरती का आयोजन हुआ। जिसमें गंगा सेवा समिति ट्रस्ट के लोगों के अलावा देव-दीपावली आयोजन समिति के अध्यक्ष मनोज कुमार, सचिव पंकज कुमार, होटल वैष्णवी क्लार्क के चेयरमैन प्रदीप राय रामजी सिंह, ओम कुमार, रेडक्रास के सचिव श्रवण तिवारी, चौसा प्रमुख सुनीता राय, प्रकाश पांडेय, सत्यदेव प्रसाद, रोहतास गोयल आदि प्रमुख लोग शामिल हुए।

दीपों से जगमगाता रामरेखा घाट