खोदा पहाड़ निकली चुहिया, क्या लीक हो जाती है जेल में छापामारी की सूचना !

0
747

बक्सर खबर। जेलो में बैठे अपराधी जिले में अशांती फैला रहे हैं। यह सूचना सरकार तक पहुंच रही है। इसको ध्यान में रखते हुए आज गुरुवार को केन्द्रीय जेल में छापामारी की गई। प्रशासनिक आदेश होने के कारण डीएम व एसपी समेत वभी वरीय पदाधिकारी जेल एक साथ जेल में दाखिल हुए। साथ में सदर डीएसपी और भारी भरकम पुलिस फोर्स। घंटो तलाशी अभियान चला। लेकिन, न कहीं से फोन मिला न कोई सिम कार्ड। कुछ वार्डों की तलाशी में गांजा की पुड़िया बरामद हुई। यहां हम आपको बता दें। पहले भी तलाशी अभियान के दौरान गांजा बरामद हुआ था। गहन जांच में पुलिस को कुछ कागजात मिले। जिन पर कुछ नंबर अंकित थे। पुलिस उसे अपने साथ ले गई है।

लेकिन, किसी ने उसके बारे में नहीं बताया। पूछने पर सदर डीएसपी सतीश कुमार ने बताया डीएम राघवेन्द्र सिंह, एसपी उपेन्द्रनाथ वर्मा व एसडीओ केके उपाध्याय आदि इस अभियान में शामिल थे। बावजूद इसके कोई खास सफलता नहीं मिली। सूत्रों की माने तो जेल में अपराधियों के पास मोबाइल फोन उपलब्ध हैं। तभी तो वे बाहर के अपने साथियों से बात करते हैं। लेकिन, छापामारी और सघन तलाशी के बाद भी फोन न बरामद होना। यह बताता है कि कहीं न कहीं कुछ चुक हो रही है। ऐसा भी हो सकता है। छापामारी की सूचना लीक हो जाती हो। तभी तो अपराधी प्रशासन को चकमा देने में सफल हो जा रहे हैं। इतनी सघन तलाशी होने के बाद भी सफलता नहीं मिलना। अपने आप में संदेह पैदा करता है।