दो दर्जन से अधिक धर्माचार्य एवं पीठाधीश्वरों सहित 700 वैष्णव भक्तों के साथ यात्रा प्रारंभ
बक्सर खबर। (तामीलनाडू,कांची) ): वैदिक प्राचीन ऋषियों की परंपरा को पुनः जागृत और याद दिलाते हुए भारत के महान मनीषी जी संत परम पूज्य श्री त्रिदंडी स्वामी जी महाराज के शिष्य पूज्य स्वामी जी महाराज ने एक बार पुन: तीर्थ यात्रा करते हुए दक्षिण भारत के कांची में 20 दिन का प्रवास बनाया।

इस अवसर पर दो दर्जन से अधिक धर्माचार्यों एवं महंतो सहित 700 भक्तों ने कांची के वरदराज भगवान का दर्शन करते हुए पूरे दक्षिण भारत की यात्रा के लिए रवाना हुए। यह यात्रा कांचीपुरम से श्रीरंगम वहां से मदुरई, रामेश्वरम, कन्याकुमारी, त्रिवेंद्रम, गुरुवायुर मंदिर, मेल कोटा, होस्पेट, किष्किंधा, फटिक शीला, पंपा सरोवर होते हुए श्रीशैलम, तिरुपति, काल हस्ती, वेल्लूर,पेरंबदूर से वापस कांचीपुरम लौटेगी।