शराबबंदी में करोड़पति बन गया चाय वाला, जब्त होगी संपति

0
2269

बक्सर खबर। कल जो चाय बेचता था। अब वह करोड़पति है। उसके पास कई बंगले और गाडिय़ां हैं। उसकी आमदनी का स्त्रोत है शराब की तस्करी। संतोष यादव, निवासी कड़सर को पुलिस ने इस आरोप में आज गिरफ्तार कर लिया। डुमरांव डीएसपी केके सिंह के अनुसार अपराध में वह इतना आगे बढ़ गया था कि एक व्यक्ति की हत्या करा दी। संतोष यादव हाल ही में जेल से बाहर आया था। एक बार फिर पुलिस ने उसे जेल भेज दिया है। क्योंकि इसने अक्टूबर 2018 में अशोक कुमार सिंह की हत्या करा दी थी। पुलिस की जांच में यह बात सामने आई। उनकी हत्या में इसका हाथ था। पुलिस आर्थिक अपराध इकाई के सहयोग से इसकी संपति भी जब्त करेगी।

कैसे खुला हत्या का राज
बक्सर खबर। अशोक कुमार सिंह निवासी कड़सर की हत्या 23 अक्टूबर को अपने गांव जाने के क्रम में हो गई। तब उनके परिवार के लोगों ने पुरूषोत्तम दुबे और ब्रह्मचारी दुबे समेत कुछ लोगों के खिलाफ एफआइआर  दर्ज   कराई । इसी बीच अगियांव का रहने वाला अपराधी भुटेली चौधरी पुलिस के हाथ चढ़ा। उसने बताया एक लाख रुपये में अशोक कुमार सिंह की हत्या का सौदा तय हुआ था। मुझे संतोष यादव ने सुपारी दी थी। अशोक की हत्या उसने क्यूं कराई। पूछने पर अपराधी ने बताया कुछ दिन पहले ही एक ट्रक शराब पुलिस ने जब्त की थी। जो संतोष और पुरूषोत्तम दुबे की थी। उनको शक था कि अशोक कुमार सिंह ने ही पुलिस से माल पकड़वाया था। ऐसे में ब्रह्मचारी दुबे ने कहा कि अगर अशोक को रास्ते नहीं हटाया गया तो आगे भी खतरा बना रहेगा। फिर क्या था संतोष ने यह साजिश की और कांट्रेक्ट किलर की सहायता से हत्या करा दी।
चाय बेचता था शराब तस्कर संतोष
बक्सर खबर। आज शराब तस्कर संतोष यादव को पुलिस ने मीडिया के सामने प्रस्तुत किया। डीएसपी केके सिंह ने बताया कुछ वर्ष पहले तक यह सोनवर्षा बाजार में चाय बेचता था। शराबबंदी लागू हुई तो यह तस्करी के कारोबार में शामिल हो गया। कुछ ही समय में इसने बहुत बड़ा हाथ मारा। अब यह जिले का बड़ा शराब तस्कर है। चार जगह उसने घर ले रखे हैं। तीन गाडिय़ां भी उसने रखी है। यह सबकुछ आर्थिक अपराध इकाई की सहायता से जब्त किया जाएगा।