बक्सर खबर। जनसंघ के पुराने नेता और तीन बार विधायक रहे दीनानाथ पांडेय का निधन हो गया है। वे लगभग 77 वर्ष के थे। आज शुक्रवार की सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। जिले के मुरार थाना अंतर्गत ठोरी पांडेयपुर गांव के मूल निवासी थे। उनके साथी श्रीराम पांडेय भार्गव ने यह जानकारी दी। स्व. पांडेय के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने बताया वे आर्मी में काम करते थे। 1965 में पैर में आई तकलीफ के कारण उन्हें छुट्टी मिल गई। वे जमशेदपुर चले आए। उस समय बिहार का हिस्सा था। यहां टाटा कंपनी में नौकरी मिल गई।

उस वक्त जमशेदपुर कम्यूनिस्ट का गढ़ था। वे जनसंघ से जुड़ और शाखा लगाने लगे। उनका स्वभाव बहुत अच्छा था। इस लिए लोगों में उनकी लोकप्रियता बढऩे लगी। नौकरी छोड़ जनसंघ के लिए पूरी तरह काम करने लगे। 1977 में पहली बार जमशेदपुर पूर्वी से विधानसभा चुनाव लड़े और निर्वाचित हुए। फिर भाजपा में चले गए। 1985 से 90 और 90 से 95 तक विधायक रहे। उसके बाद चुनाव नहीं लड़े। यहीं जमशेदपुर में ही बस गए। उनके एक पुत्र हैं जिनका नाम प्रदीप कुमार पांडेय है। परिजनों के अंतिम दर्शन के लिए शव को सुरक्षित रखा गया है। आज उनका दाहसंस्कार नहीं हुआ।