बक्सर खबर। किसी ने सच कहा है कि जो आप सोचते हैं, वह सब कुछ अपनी इस दुनिया में तो मौजूद ही है, वह भी है जो आप नहीं सोच सकते। भरोसा करना मुिश्कल है न, लेकिन इस दुनिया में बहुत कुछ ऐसा है जो हमारे और आपके भरोसे को हिलाकर रख देगा। अब जैसे अपना देश संयुक्त परिवार के लिए कभी जाना जाता रहा है, लेकिन अब तो हमारी सोच हम दो, हमारे दो पर टिक गई है। ऐसे में हम आपको बताएं कि अपने ही देश में एक परिवार ऐसा है जो दुनिया में सबसे बड़ा होने का रिकार्ड रखता है तो आप क्या अनुमान लगाएंगे उसके सदस्यों की संख्या के बारे में? यही न कि होंगे पचास साठ के करीब। अगर आपकी सोच इतनी भर है तो आप गलत हैं। जी हां, इस परिवार के सदस्यों की संख्या पचास-साठ नहीं बिल्क पूरे 181है। सबसे मजेदार बात यह है कि घर के मुखिया की खुद की 39 पत्नियों और 94 बच्चे हैं। यह सभी अपने गांव में बने सौ कमरे वाले चार मंजिला मकान में साथ-साथ रहते हैं। दुनिया के सबसे बड़े परिवार के रूप में इस परिवार का नाम वर्ल्ड रिकार्ड रखने वाली गिनिज बुक में दर्ज है।
मिजोरम राज्य के बख्तवांग गांव में बसे इस परिवार के मुखिया का नाम जिओना चाना है। जिओना की उम्र करीब 74 साल है। जियोना चाना ने पहली शादी 17 साल की उम्र में जाथिआंगी से की थी। आज भी वह शादी की इच्छा रखते हैं। परिवार में सेना जैसा अनुशासन है। जिओना की पहली पत्नी जथिआंगी सभी को काम सौंपती है कि किसको क्या करना है। परविार के खाने के लिए रोजाना 40 चिकेन, 70 किलो आलू और सौ किलो से ज्यादा चावल पकाए जाते हैं। जिओना 39 पत्नियों के पति होने को लेकर खुद को खुशकिस्मत मानते हैं। बता दें कि वह जिस जनजाति से आते हैं वह उनको असिमित शादी करने का अधिकार देती है।

Comment