बक्सर खबर: बक्सर एसपी राकेश कुमार का मुजफ्फरपुर में तबादले के बाद रविवार को डुमरांव थाना में विदाई समारोह का आयोजन किया था। जिसमें जनप्रतिनिधी के अलावे बुद्धिजीवी वर्ग एवं पुलिस के आला अधिकारी मौजूद थे। अपने संबोधन में एसपी राकेश कुमार ने कहा कि मैं ने किताबों में बक्सर और डुमरांव का रमणिक इतिहास पढ़ा था। परन्तु नौकरी के पहले ही पोस्टिंग में नजदीक से देखने को मिल गया। भले ही यहां मुझे कम समय मिला परन्तु इतने दिनों में जाना कि यहां के लोग काफी स्नेह, प्यार देने वाले व मिलनसार स्वभाव के है। यह कहते हुए आंखों से आंसू झलक पड़े। शुरूआत के कुछ दिनों में कुछ खट्टा मिठ्ठा अनुभव रहा। परन्तु डुमरांव एसडीपीओ के.के.सिंह के आने बाद अनुमंडल में बहुत कुछ तस्वीरे बदली। कई बड़े मामलों का उद्भेदन हुआ। डुमरांव के लोगों से काफी प्यार मिला। जिसके लिए मैं सदा अभारी रहूंगा। पत्रकार संघ ने बरिष्ठ पत्रकार अजय सिंह के नेतृत्व एसपी को सम्मानित कर विदाई दी।

उद्बोधन के बाद स्थानीय प्रबुद्धजनों मोहन गुप्ता, भाजपा नेता मनोज केसरी, वार्ड पार्षद संतोष मिश्रा, वार्ड पार्षद प्रतिनिधी दीपक तिवारी, पूर्व वार्ड पार्षद धीरज कुमार, डुमरांव न पके पूर्व चेयर मैन मोहन मिश्रा, रामजी सिंह शेरेदिल समेत कई लोगों ने उन्हें बुके व पुष्पहार से सम्मानित किया। इसके बाद डुमरांव एसडीपीओ के.के.सिंह, थानाध्यक्ष शिवनरायण राम, सर्किल इंस्पेक्ट अविनाश कुमार, कोरानसराय थानाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह पूर्व डीएसपी ददन सिंह समेत कई पुलिस वालों ने सम्मानित किया। इसके बाद एसपी राकेश कुमार डुमरांव बीएमपी कार्यलय गये। जहां वह कमानडेंट के प्रभार में थे। उन्होंने वहां डीएसपी जीडी तिवारी को प्रभार दिया। उसके बाद वहां भी विदाई समारोह का आयोजन किया गया। उसके बाद राकेश कुमार पत्नी के साथ ब्रह्मुपर बाबा ब्रह्मेश्वर नाथ मंदिर गये। जहां विशेष पूजा अर्चना के बाद बक्सर जिले को अलविदा कहा।