बक्सर खबर : प्रखंड प्रमुख के चुनाव को लेकर रविवार की दोपहर सिमरी प्रखंड कार्यालय रणक्षेत्र बन गया था। इस दौरान जमकर मारपीट और पत्थरबाजी हुई। इस घटना में सीओ दिलीप कुमार के बयान पर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। कुल तेइस लोगों समेत अज्ञात दो सौ लोगों पर मुकदमा हुआ है। जिन प्रमुख लोगों को अभियुक्त बनाया गया है । उनमें निरज पाठक, प्रियंका पाठक, भिखारी यादव, चंदन कुमार, मनोज ओझा, अंगद दुबे, विजय शंकर, राजधन राय, हरीशंकर पाठक, त्रिवेणी दुबे, सूर्य देव दुबे का नाम शामिल है। निरज पाठक की पत्नी प्रियंका प्रमुख पद की दावेदार थी। इन दोनों को प्रशासन ने इसमें लपेटा है। रविवार को हुए चुनाव में डुमरांव एसडीओ प्रमोद कुमार ने डुमरी की बीडीसी सदस्य माधुरी देवी को प्रमुख घोषित कर दिया था। जिसके बाद यह विवाद बढ़ा था। एसडीओ ने दुल्हपुर के दिनेश सिंह को उप प्रमुख भी निर्वाचित घोषित कर दिया था। जबकि उस समय उप प्रमुख के चुनाव की प्रक्रिया भी संपन्न नहीं हुई थी। ग्रामीणों ने बताया कि इस पूरी प्रक्रिया में प्रशासन ने एकपक्षिय कार्रवाई की है। मारपीट में दोनों पक्ष के लोग शामिल थे। बावजूद इसके सिर्फ एक पक्ष के लेागों पर ही प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

विज्ञापन
विज्ञापन

1 COMMENT

  1. pura dhandhli hua hi.prsasan ke milivagat se kam hua hi.bina chunav hue up prmukh ka chunav hua .14 14 mat prapt hone ke bawjud madhuri devi ko nirwachit ghosit kiya gya.ye galt hua.iski sikayat nirwachan ayog me ki jayegi

  2. Up prmukh ka chunaw Hua hi nhi to ghosda kaise kr diye prmod Kumar Ji ya to phle se jante the ki dines Singh Hoge