बक्सर खबरः शादी के घर में मातम छा गया । मंगल गीत की जगह चारों तरफ चीत्कार सुनाई देने लगा है। क्योंकि भतीजे के तिलक दिन चाचा ने फांसी लगा ली। घटना ब्रम्हपुर थाना क्षेत्र के सपही गांव है। जहां शनिवार रात देवमुनी पाण्डेय के घर तिलक समारोह था। रात में 11ः30 बजे तक सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था। अचानक चाचा हरेन्द्र पाण्डेय गायब हो गये। परिवार वालों ने सोचा कि कहीं सो गये होंगे। घरवाले इस घटना से बेखबर थे।

तभी अचानक थानाध्यक्ष दयानंद सिंह का फोन गया। हेलो मैं थाना से बोल रहा हूं। आप निमेज बबुआ ब्रम्ह स्थान बगीचे में पहुंचे आपके परिवार के एक सदस्य गिरे पड़े है। घर वाले जब पहुंचे तो दंग रह गये। हरेन्द्र पाण्डेय(40) पिता देवमुनी पाण्डेय पेड़ से लटके हैं। पुलिस ने शव को पेड़ से उतारा। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार पाण्डेय कोलकता में नौकरी करते थे। पांच दिन पूर्व भतीजे की शादी में शामिल होने आए थे। रात 11:30 तक साथ बैठे थे। घर में तिलक समारोह था इसलिए हंसी-मजाक हो रहा था। परन्तु अचानक यह क्या हुआ किसी को विश्वास ही नहीं हो रहा है। घटना के संबंध में थानाध्यक्ष दयानंद सिंह ने कहा पारिवारिक मामला हो सकता है। परिजनों के अनुसार इनको कुछ दिन पूर्व चोट लगी थी। ठीक हो गये थे लेकिन डिप्रेशन में रहते थे।