बक्सर खबर : बच्चों का निवाला हड़प उसे बेचने जा रहे गुरूजी को ग्रामीणों ने रंगेहाथ पकड़ लिया। हो हंगामा के बाद मामला विभाग तथा पुलिस प्रशासन तक पहुंच गया। पुलिस ने ठेला पर लदे पांच बोरी चावल को जब्त किया। घटना ने शिक्षक दिवस के महत्वपूर्ण दिन गुरूजी को कलंकित कर दिया। यह वाकया नया भोजपुर के प्राथमिक विद्यालय अंबेदकर नगर की है। बताया गया कि मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक सुशील कुमार द्वारा पांच बोरा चावल एक ठेला पर रख बाजार भेजा जा रहा था। जैसे ही ठेला विद्यालय के गेट पर निकला सूचना पर इकट्ठा हुए ग्रामीणों ने ठेला को जब्त कर शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों तथा नया भोजपुर ओपी पुलिस को इसकी सूचना दी।

ग्रामीण हंगामा करने लगे। ग्रामीणों के हंगामे से देर तक अफरा तफरी की स्थिति बनी रही। ग्रामीणों का कहना था कि प्रधानाध्यापक द्वारा स्टाक में चावल की कमी बता सप्ताह में पांच-छह दिन ही एमडीएम बनवाया जाता है। हंगामा करने वालों में वार्ड 22 की वार्ड सदस्या कलावती देवी, मुखिया पति बच्चन सिंह, राजू कुशवाहा, उपेन्द्र यादव, संजीत, मुन्ना यादव, हेमंत नट समेत अन्य ग्रामीण थे। इसके बाद आई नया भोजपुर पुलिस ने उक्त चावल को जब्त कर लिया। इस संबंध में प्रखंड एमडीएम प्रभारी प्रिती सिन्हा द्वारा नया भोजपुर ओपी में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। इस संबंध में प्रभारी प्रधानाध्यापक सुशील ने बताया कि ग्रामीण राजनीति के तहत उन्हें फंसाया गया है। उन्होंने कहा कि पूर्व में विद्यालय की जमीन को दबंगो के कब्जे से अतिक्रमणमुक्त करने की गुहार विभाग तथा प्रशासन से लगाई गई थी। इसी के प्रतिक्रिया में ग्रामीणों द्वारा एक सोची समझी साजिश के तहत अंजाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि जब्त चावल विद्यालय के एमडीएम का नहीं है।

विज्ञापन