बक्सर  खबर  : आज भारतीय संस्कृति को लेकर अपने ही देश में तरह-तरह की अटकलें लगायी जा रही हैं। परंतु सत्य यह है कि परमात्मा आनंद का वह स्वरुप है। जिसकी अनुभूति जीवन को बदल देती है। इसका अलख जगाने शनिवार को विश्व के कई देशों से धर्मनुरागी देव भूमि बक्सर पधारे हैं। कई देशों से आए वैष्णव भक्तों ने शहर के गोलंबर से लेकर पुलिस चौकी तक नगर संकीर्तन निकाला।
जानकारी के अनुसार यह श्रद्धालु सदर प्रखंड के तिवारीपुर गांव में आए हैं। जहां 15 तारीख से श्रीमदभागवत कथामृत महोत्सव का आयोजन हो रहा है। 21 तक चलने वाले आयोजन में श्रीमद्भक्तिवेदान्त मधुसुदान जी महाराज कथा कहेंगे। तिवारी पुर में महान संत श्रीमननारायण तिवारी जी का जन्म हुआ था। वे गौडिया संप्रदाय के महान संत हुए। जिन्होंने विश्व से 29 देशों में विष्णु भगवान व राधा -कृष्ण के प्रेम स्वरु प को लोगों तक पहुंचाया। अपने गुरू की याद में प्रति वर्ष तिवारी पुर में यह आयोजन होता है। कार्यक्रम के संयोजक कृष्णा मुरारी दास ने बताया कि यहां अमेरिका, जापान, जर्मनी, रसिया, नाइजिरिया, चाइना, आस्ट्रेलिया, भूटान, स्पेन आदि देशों से भक्त आए हुए हैं।

संकीर्तन करती महिला टोली
संकीर्तन करती महिला टोली