बक्सर खबर : विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्था सुधारने का अभियान फिर जोर पकडऩे वाला है। दुर्गा पूजा बाद जांच का सिलसिला प्रारंभ होगा। इसके निर्देश जिलाधिकारी ने शिक्षा विभाग को दे दिए हैं। इस बार कुछ नए दिशा निर्देश भी दिए गए हैं। जांच के संबंध में पूछने पर शिक्षा पदाधिकारी ओंकार ने कहा कि सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों को इससे अवगत करा दिया गया है। डीएम के निर्देश में यह कहा गया है कि सुबह नौ से दस बजे के बीच एवं अपराह्न तीन से चार बजे विद्यालयों की जांच होगी। इसमें विद्यालय की जांच करने गए पदाधिकारी सभी शिक्षकों को साथ खड़ा कर उनकी तस्वीर लेंगे। जिसे डीएम के ह्वाट्सएप अथवा मेल पर भेजा जाएगा। साथ ही बच्चों की उपस्थित एवं मध्यान भोजन की उपलब्धता की जांच होगी।

हेडमास्टर को किया निलंबित
बक्सर : जिलाधिकारी रमण कुमार ने तीन जुलाई मसढिय़ां विद्यालय की जांच की थी। वहां की प्रधानाध्यापक चन्द्रावती देवी को फिलहाल कई कारणों से दोषी पाए जाने पर निलंबित कर दिया गया है। संबंधित पंचायत के द्वारा उनको इसका पत्र सौंप दिया गया है। निलंबन की अवधि में उन्हें पंचायत कार्यालय पर हस्ताक्षर करने का आदेश दिया गया है। सूत्रों ने यह भी बताया कि वहां की अन्य सहायक शिक्षक रेखा भी उस दिन अनुपस्थित मिली थी। उनका वेतन भी जुलाई माह से बंद है।