बक्सर खबर : शहर के हुनमान फाटक मुहल्ले में पटाखा बम बनाने के क्रम में जोरदार विस्फोट हो गया। इस दुर्घटना में कारीगर मंसुर आलम बुरी तरह घायल हो गए। पड़ोस के लोगों ने जब आवास सूनी तो भागे-भागे उनके घर पहुंचे। वे अपनी छत पर बुरी तरह घायल अवस्था में पड़े थे। इस काम में हाथ बंटाने वाली उनकी बेटी समिमा खातुन भी गंभीर रुप से जख्मी थी। आस-पास के लोगों ने बाप-बेटी को सदर अस्पताल पहुंचाया। जहां से उन्हें बेहतर उपचार के लिए पटना रेफर कर दिया गया। यह दुर्घटना मंगलवार की दोपहर डेढ़ बजे हुई। जब वे अपनी छत पर बैठ के पटाखा बना रहे थे।

मीडिया को मिला मशाला
बक्सर : मंसुर चाचा शहर के बहुत ही पुराने पटाखा साज हैं। जब उनके यहां यह घटना हुई तो कुछ लोगों ने गलत हवा दी। शायद उन्हें सच्चाई का पता भी नहीं हो। लेकिन इस बीच इलेक्ट्रानिक मीडिया ने भी वही काम किया। पर इसकी वास्तविकता यह है उनके पास इस काम का लाइसेंस भी है। मौके का जायजा लेने पहुंचे नगर कोतवाल राघव दयाल ने भी कहा कि वहां से सिर्फ सुतरी बम बरामद हुए हैं। वे पटाखे बना रहे थे। संयोग से तभी दुर्घटना हो गयी।

घायल बाप बेटी
घायल बाप बेटी

बहुत गरीब है परिवार
बक्सर : घायल मंसुर आलम का परिवार बहुत ही तंगहाली में है। वे अपने जमाने में बहुत ही मशहुर फुटबालर थे। आज भी उनका बेटा काम धाम छोड़ फुटबाल खेलने के लिए जगह-जगह जाया करता है। उनके इस पेशा गत काम में उनके बड़ी बेटी हाथ बंटाती थी। जो अभी भी घायल है।