बक्सर खबर : पैक्स अध्यक्ष हत्या कांड में वांछित शिवजी पांडेय एवं उनके परिजनों को पुलिस ने गिरफ्तार करने की पूरी योजना बना रखी थी। सादे लिबास में पुलिस वाले न्यायालय के बाहर तैनात थे। जैसे ही वे आए उनको दबोच लेना है। इस पूरी तैयारी को गच्चा दे शिवजी पांडेय आसानी से न्यायालय पहुंच गए। इस काम में उनकी मदद अधिवक्ता ने की। वकील ने अपनी गाड़ी में उनको बैठाया। लिबास पर एक दूसरे रंग का कवर भी। पुलिस उनको पहचान नहीं सकी। वे मजे से कार में बैठे-बैठे न्यायालय में पहुंच गए। इसकी सूचना वरीय पदाधिकारियों को दी गयी। पर कानूनी बाध्यता के कारण न्यायालय परिसर से उनको दबोचना संभव नहीं था। वहीं पैदल न्यायालय पहुंच रहे अन्य अभियुक्त भी गेट पर मौजूद पुलिस को देख फरार हो गए। एसपी उपेन्द्र शर्मा ने कहा कि हमारी यही कोशिश रहती है कि पीडित पक्ष को न्‍याय मिले। गलत करने वालों को दबोच लिया जाए।  पर कुछ लोगों की वजह से चुक हो गयी। वैसे न्याय हित में पुलिस इन दोनों को रिमांड पर लेने की तैयारी में है। जिससे हत्‍या के कारणों का पता लगाया जा सके। शनिवार को इसके लिए न्यायालय में रिमांड की अर्जी दी जाएगी। पुलिस को शक है कि कुछ ऐसे युवक भी इस साजिश में शामिल हैं। जिनका नाम प्राथमिकी में नहीं है। पुलिस वैसे लोगों को भी चिह्नित कर रही है।