पहले बच्चा मरा अब मां, जमीन के लिए कुर्बान हुई दो जानें

0
1848

बक्सर खबर : लोभ व क्रोध मनुष्य का भविष्य नष्ट कर देते हैं। यह धार्मिक वाक्य असल जीवन में हमेशा ही सच साबित होता है। डुमरांव में जमीन के लिए जलाई गयी रीना के साथ ऐसा ही हुआ। रविवार की सुबह जिला छठ के उत्साह में डूबा था। वहीं दूसरी तरफ उसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। रीना ने पुलिस को बयान दिया था कि सताइस अक्टूबर की रात उसके ससुराल वालों ने जलाकर मारने का प्रयास किया था। उसके पति उमेश कुमार व सास-ससुर इसमें शामिल थे। गुरुवार को उसे अस्पताल में दाखिल किया गया। ससुराल वाले भाग खड़े हुए। उपचार के दौरान पता चला की रीना को पांच माह का गर्भ है। अल्ट्रा साउंड रिपोर्ट में पता चला कि बच्चा गर्भ में ही मर गया है। आपरेशन कर उसे गर्भ से बाहर किया गया। इसके बाद भी रीना को बचाया नहीं जा सका। रविवार को उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने उसने कहा था। पिता की अट्ठारह क_ा जमीन डुमरांव है। उसे ही ससुराल वाले हथियाना चाहते थे। जमीन का वह टुकड़ा दो जानों का दुश्मन बन गया। पुलिस के अनुसार दहेज उत्पिडन का मामला  दहेज हत्या बन गया है।

विज्ञापन
विज्ञापन