बक्सर खबर : नगर परिषद चुनाव की तैयारी अंतिम चरण में पहुंच गयी है। मतदाता सूची के प्रकाशन के बाद ही वार्डो के आरक्षण का रोस्टर जारी किया जाएगा। फिलहाल जो आरक्षण रोस्टर बना है। उसके अनुसार शहर के 34 वार्ड में से 24 आरक्षित हैं। सामान्य वर्ग के लिए दस सीटें हैं। इसी सूची को अनुमोदन के लिए राज्य निर्वाचन आयोग को भेजा गया है। इन 24 में से 17 महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। इनमें तीन अनुसूचित जाति, एक जन जाति व आठ पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित है। सूत्रों की माने तो पिछड़ा वर्ग की आठ में से चार पिछड़ा महिला, तीन अनुसूचित में से एक महिला, एवं 22 जेनरल में से 12 वार्ड सामान्य वर्ग महिला के लिए हैं। इस तरह कुल 34 में से 17 महिलाओं के लिए हैं।

डुमरांव ने फंसाया पेंच
बक्सर : डुमरांव नगर परिषद के 26 वार्डो का आरक्षण रोस्टर भी पटना भेजा गया था। जहां से महरौरा को लेकर आपत्ति पड़ी थी। उसके निस्तारण के लिए सूची को वापस भेज दिया गया था। इस संबंध में पूछने पर डुमरांव एसडीओ प्रमोद कुमार ने कहा कि हमारे यहां से सूची वापस जिला पंचायत कार्यालय को भेज दी गयी है। महरौरा पंचायत में शामिल हो गया है। इस लिए कोई विवाद नहीं है। वहीं सूत्रों की माने तो डुमरांव की सूची पटना नहीं पहुंची है। जिसके कारण जिले की सूची भी लटकी है।

वार्ड 34 पर भी है आपत्ति
बक्सर : बक्सर नगर के वार्ड नंबर 34 पर भी आपत्ति दी गयी है। सूचना के अनुसार नए रोस्टर में इसे सामान्य सीट कोटी का दर्शाया गया है। इसकी आपत्ति लेकर राज्य निर्वाचन आयोग में पहुंचने वालों का कहना है। 34 को अनुसूचित जाति सीट घोषित किया जाए। पिछले दस वर्षो से यह वार्ड पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित था। इस दलील के बीच सूची के प्रकाशन का इंतजार किया जा रहा है।