बक्सर खबर : जेल जाने से पहले की पुलिस की हिरासत से कैदी फरार हो गया। यह वाकया रविवार की सुबह शहर में हुआ। जब चोरी के आरोप में पकड़े गए विकास राम निवासी खलासी मुहल्ला को मुफस्सिल पुलिस पेशी के लिए लाई थी। न्यायिक अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया जाना था। इसी बीच कैदी उनको चकमा दे फरार हो गया। सदर डीएसपी शैशव यादव ने बताया मुफस्सिल के नदांव में चोरी हुई थी। उसी आरोप में विकास राम पकड़ा गया था। पहले भी यह जेल जा चुका है। वैसे पुलिस इस मामले में पूरा सच बताने से परहेज कर रही है। नगर में इसकी प्राथमिकी दर्ज कराई गयी है। लेकिन थानेदार गणेश राम के अनुसार उन्होंने एफआइआर देखा ही नहीं है। यह है नगर पुलिस की तत्पराता।

वहीं मुफस्सिल पुलिस ने संपर्क करने पर कोई जवाब नहीं दिया। अंतत: पुलिस कप्तान राकेश कुमार शर्मा से संपर्क किया गया। उन्होंने दोषी पुलिस कर्मियों को निलंबित किया जाएगा। साथ ही उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई भी होगी। अब देखना यह है कि मुफस्सिल पुलिस की स्टेशन डायरी से किसके नाम का पर्चा निकलता है। जो कैदी को लेकर न्यायालय आया था। रविवार का दिन होने के कारण कैदी न्यायालय परिसर गया था। या कहीं और यह बात भी लोगों के गले नहीं उतर रही। वैसे सूत्रों ने बताया शनिवार को ही इसे जेल भेजा जाना था। लेकिन गोलंबर पर हुए बवाल के कारण इसका चलान नहीं हो पाया था। इस वजह से रविवार को इसे बक्सर भेजा गया। इसी बीच उसने पुलिस को चकमा दे दिया।

विज्ञापन