विवाद को सुलझाते एसडीओ प्रमोद कुमार

बक्सर खबर : डुमरांव अनुमंडल के चौगाई गांव में दो पक्षों के आमने-सामने आ जाने से गांव में तनाव व्याप्त हो गया है। विवाद की वजह नाली का पानी बना है। रविवार को ही दो परिवारों के बीच बंदूकें तन गई। गांव के लोगों ने किसी तरह बीच बचाव किया। मुरार पुलिस भी मौके पर पहुंची। तत्काल इसकी सूचना अनुमंडल के वरीय पदाधिकारियों को दी गई। सोमवार की सुबह डीएसपी डुमरांव प्रमोद कुमार व डीएसपी कमलापती सिंह मौके पर पहुंचे। सभी ने विवादित स्थल का जायजा लिया।

पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि व जिला पार्षद बंटी शाही को वहां बुलाया गया। नाली की सफाई, तत्काल पानी की निकासी एवं उसके स्थायी निदान के लिए एसडीओ ने मौजूद सीओ और मुखिया प्रतिनिधि को निर्देश दिए। बावजूद इसके दो पक्षों के बीच तनाव बना हुआ है। जिसको देखते हुए पुलिस व प्रशासन की टुकड़ी ने गांव में फ्लैग मार्च किया। शांति व्यवस्था बनी रहे। इसके लिए मौके पर पुलिस फोर्स तैनात की गई है।
क्या है विवाद का कारण 
बक्सर : चौगाई गांव के अधियारी के टोला में लंबे समय से गली में पानी बहता है। नाली का पानी सड़क पर बहने के कारण लोगों को नित्य परेशानी झेलनी होती है। यह नजारा ज्योड़ा मंदिर से खपड़ैला तक की है। इसी के बीच रघुनाथ यादव का घर है। उनके दरवाजे पर पानी जमा होने से कीचड़ भर गया है। उनके पुत्र सोनू कुमार ने रविवार को वहां ट्रैक्टर से लाकर एक ट्राली मिट्टी गिरा दी। नतीजा उनके दरवाजे पर निकलने लायक रास्ता तो बन गया। दूसरी तरफ एक तरफ गली में पानी जमा होने लगा। उस तरफ के लोगों ने विरोध शुरू किया। मनु कुमार के युवक ने इसका खुलकर विरोध किया। बात देखने-दिखाने से शुरू हुई तो औकात-बात तक पहुंच गई। दो पक्ष के लोग बंदूके लेकर गली में खड़े हो गए। तनाव इतना बढ़ा की मानो अब खून-खराबा हो जाएगा। पुलिस को सूचना मिली तो वह भागी-भागी पहुंची। दोनों पक्ष के लोगों को शांत कराया गया।